न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

545 स्निफर डॉग किये गये प्रशिक्षित, जवानों को बचायेंगे आईईडी से

गृह मंत्रालय के अनुसार सुरक्षा बल जवानों की जान बचाने के लिए नक्सली इलाकों में तकनीकी और मानवरहित निगरानी के तरीकों पर जोर देने की जरूरत है.

920

NewDelhi : गृह मंत्रालय के अनुसार सुरक्षा बल जवानों की जान बचाने के लिए नक्सली इलाकों में तकनीकी और मानवरहित निगरानी के तरीकों पर जोर देने की जरूरत है.  इस क्रम में गृह मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा बल के जवानों को आईईडी विस्फोट से बचाने के लिए सुरक्षा बलों में प्रशिक्षित स्निफर डॉग स्क्वायड की संख्या बढ़ाई जायेगी.  ड्रोन और यूएवी से आईईडी बिछाने के लिए नक्सलियों की हरकत पर नजर रखने के अलावा जमीन के अंदर बिछाये गये आईईडी को रिमोट से पहचान कर नष्ट करने की तकनीकी पर काम हो रहा है.  कहा कि आईईडी से बचाव के लिए सुरक्षा बलों ने कई स्तरों पर तैयारियां की हैं.  सुरक्षा बलों से कहा गया है कि जवानों का नुकसान कम से कम हो इसके लिए वे प्रशिक्षण और काउंटर रणनीति बनाने में नक्सलियों की रणनीति का केस स्टडी के रूप में अध्ययन करें.

eidbanner

नयी रणनीति में आईईडी ट्रैक करने में प्रशिक्षित कुत्तों की भूमिका अहम

mi banner add

बता दें कि बड़े हमलों से सबक लेकर उनका काल्पनिक वीडियो प्रस्तुत कर नये जवानों को बचाव की रणनीति पर जवानों को प्रशिक्षित करने पर जोर दिया जा रहा है.  जानकारी के अनुसार नयी रणनीति में आईईडी ट्रैक करने में प्रशिक्षित कुत्तों की भूमिका अहम होगी.  इसके तहत 545 कुत्तों को सूंघने, नजर रखने और पैदल पेट्रोलिंग के लिए प्रशिक्षित किया गया है.  जानकारी के अनुसार लगभग 100 बम छानबीन और निपटान दल (बम डिटेक्शन एंड डिस्पोजल स्क्वायड) को प्रशिक्षित कर बुरी तरह नक्सल से प्रभावित इलाकों में तैनात किया जा रहा है. बताया गया है कि 64 दस्ते तैनात किये जा चुके हैं.  साथ ही 34 और ऐसे दलों को प्रशिक्षित किया जा रहा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: