JharkhandRanchi

दोहा और कतर से 53 प्रवासियों का वतन वापसी, चार्टर्ड फ्लाइट से पहुंचे भुवनेश्वर, बस से आएंगे पूर्वी सिंहभूम

विज्ञापन
Advertisement

Ranchi: कोरोना संकट के बीच विदेशों में फंसे प्रवासियों की वतन वापसी के प्रयास हेमंत सरकार ने तेज कर दी है. श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग में फिया फाउंडेशन द्वारा संचालित राज्य प्रवासी नियंत्रण कक्ष ने दोहा और कतर में रह रहे झारखंड के पश्चिम सिंहभूम जिले के 53 प्रवासियों का वतन वापसी मार्ग प्रशस्त किया. सभी प्रवासी भारतीय समय के अनुसार, सुबह 8.30 बजे रवाना हुए और 3.30 बजे भुवनेश्वर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे.

53 प्रवासीयों में 4 बच्चे और तीन वरिष्ठ नागरिक भी हैं शमिल

दोहा और कतर से लौट रहे प्रवासीयों में 4 बच्चे और तीन वरिष्ठ नागरिक भी शामिल हैं. कामकाज बंद होने की वजह से वतन वापसी का प्रयास कर रहे थे. इस दिशा में राज्य सरकार के प्रवासी नियंत्रण कक्ष की ओर से पहल किया गया. इसके बाद चार्टर्ड फ्लाइट के जरिए भुवनेश्वर लाया गया.

भुवनेश्वर से बसों से पहुंचेंगे पूर्वी सिंहभूम

वतन वापसी के बाद राज्य सरकार के द्वारा सभी प्रवासी कमगारों के परिजन सहित प्रशासन की देख रेख में सड़क मार्ग से पर्वी सिंहभूम लाया जा रहा है. सभी को सुरक्षित वापसी के लिए जिला प्रशासन के द्वारा बसों, सुरक्षा, भोजन और डॉक्टरों की व्यवस्था की गई गई है.

advt

ये भी पढ़ें- पलामू: वज्रपात से दो महिलाओं सहित तीन की मौत

इस कार्य को समन्वय श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग में फिया फाउंडेशन द्वारा संचालित राज्य प्रवासी नियंत्रण कक्ष के द्वारा किया जा रहा है. वहीं प्रदेश के प्रवासी मजदूरों की वापसी में भी श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग को भी सरहा जा रहा है. गौरतलब है कि राज्य सरकार की पहल पर नेपाल, भूटान से प्रवासी कमगार लाए जा चुके हैं.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: