Ranchi

सेंट्रल यूनिवर्सिटी के लिए कांके के चेरी-मनातू में 510 एकड़ जमीन का अधिग्रहण शुरू

जमीन अधिग्रहण को लेकर शिड्यूल-11 के तहत रैयतों को नोटिस जारी करने की प्रक्रिया शुरू

फिलहाल रांची के ब्रांबे में चल रहा है सेंट्रल यूनिवर्सिटी का अस्थायी कैंपस

Ranchi: केंद्रीय विश्वविद्यालय झारखंड के लिए राज्य सरकार ने कांके प्रखंड के चेरी, मनातू में 510 एकड़ जमीन आवंटित की है. केंद्रीय विवि के जमीन अधिग्रहण को लेकर जिला प्रशासन ने शिड्यूल-11 के तहत रैयतों को नोटिस दिये जाने और मुआवजे की राशि भुगतान करने को लेकर प्रक्रिया शुरू कर दी है.

इसे भी पढ़ेंःक्या #IL&FS, #DHFL के बाद अगला नंबर #इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड का है?

जिला बंदोबस्त कार्यालय की तरफ से इसकी औपचारिकताएं पूरी की जा रही है, ताकि केंद्रीय विवि के स्थायी कैंपस, हॉस्टल, कर्मियों और अधिकारियों के आवास और अन्य सुविधाओं का विकास किया जा सके.

केंद्रीय विवि का नया कैंपस ग्रीन कैंपस होगा, जो पारिस्थितिकी संतुलन के अनुरूप होगा. ग्रीन आर्किटेक्चर और डिजाइन के आधार पर बननेवाले भवन बिल्डिंग के लिए जमीन अधिग्रहण के बाद कार्रवाई की जायेगी.

एक मार्च 2009 को केंद्रीय विवि एक्ट के तहत केंद्रीय विवि झारखंड की स्थापना की गयी थी. तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल की अनुमति के बाद केंद्रीय विवि झारखंड की स्थापना की गयी थी, जिसके पहले कुलपति डॉ डीटी खटिंग थे.

फिलहाल ब्रांबे के अस्थायी कैंपस में चल रहा विवि

केंद्रीय विवि राजधानी के इटकी प्रखंड स्थित ब्रांबे में चल रहा है. इसमें स्नातकोत्तर स्तर के 26 प्रोग्राम और डॉक्टरेट स्तर के 20 से अधिक कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं.

पाठ्यक्रमों में नैनो टेक्नोलाजी, मास कम्यूनिकेशन, कंप्यूटर साइंस, जीओ इंजीनियरिंग, वाटर इंजीनियरिंग, ट्राइबल लॉ, गणित, भौतिकी, रूरल एंड ट्राइबल मैनेजमेंट, फोक लोर, ह्यूमन राइट्स, बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन, लाइफ साइंसेस, ट्रांसपोर्ट इंजीनियरिंग समेत अन्य कोर्स प्रमुख हैं.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: उम्र का गोल्डेन टाइम इस नौकरी में लगा दिया, अब कर्ज में डूबे हैं

Advt

Related Articles

Back to top button