न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हर दिन 5000 श्रद्धालुओं को बिना वीजा करतारपुर जाने की मिले अनुमतिः भारत

तनाव के बाद भारत और पाकिस्तान के अधिकारियों के बीच पहली बैठक

346

New Delhi: भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े हुए तनाव के बीच गुरुवार को दोनों देशों के अधिकारियों के बीच करतारपुर कॉरिडोर को लेकर अहम बैठक हुई. बालाकोर्ट एयर स्ट्राइक और उसके बाद सीमा पर पाकिस्तान की हरकत के बाद बढ़े तनाव के बाद यह पहली बैठक है. भारत ने पाकिस्तान से करतारपुर गुरुद्वारे के लिए हर रोज 5000 श्रद्धालुओं को बिना वीजा जाने की अनुमति देने की मांग की है. भारत ने यह भी सुझाव दिया कि श्रद्धालुओं को करतारपुर साहिब तक पैदल जाने की अनुमति दी जाए और सप्ताह के सातों दिन इस कॉरिडोर को खुला रखा जाना चाहिए. गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव एससीएल दास ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि भारत ने जोर देकर कहा कि करतारपुर कॉरिडोर की स्पिरिट के तहत इसे पूरी तरह से वीजा फ्री होना चाहिए. उन्होंने आगे कहा कि इसके साथ ही अतिरिक्त दस्तावेज या प्रक्रिया के नाम पर कोई अतिरिक्त बोझ (रुकावट) नहीं थोपा जाना चाहिए. श्री दास ने कहा कि भारत चाहता है कि भारतीय और भारतीय मूल के लोगों को भी करतारपुर साहिब जाने की अनुमति मिले. करतारपुर में ही सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव जी ने अपने जीवन के आखिरी साल गुजारे थे.

इसे भी पढ़ें – जमीन विवाद के चलते दो भाइयों का अपहरण, मामले की छानबीन में जुटी पुलिस

सातों दिन मिले यात्रा की अनुमति

मीटिंग के बाद संयुक्त सचिव श्री दास ने कहा कि भारत ने जोर देकर कहा है कि बिना किसी ब्रेक के हफ्ते के सातों दिन श्रद्धालुओं को यात्रा की अनुमति दी जाए. यह मीटिंग अटारी-वाघा बॉर्डर पर भारतीय साइड में हुई. बातचीत के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि दोनों पक्षों ने परियोजना के विभिन्न पहलुओं और प्रावधानों को लेकर विस्तृत और रचनात्मक बातचीत की और करतारपुर साहिब गलियारे को जल्द चालू करने की दिशा में काम करने पर सहमति जताई. बयान के अनुसार 2 अप्रैल को अगली बैठक वाघा में आयोजित करने पर सहमति बनी और इससे पहले 19 मार्च को प्रस्तावित जीरो पॉइंट पर तकनीकी विशेषज्ञों की बैठक होगी, जिसमें गलियारे के अलाइनमेंट को अंतिम रूप दिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें – अग्रवाल ब्रदर्स हत्याकांड : लोकेश चौधरी के बॉडीगार्ड ने किया सरेंडर!

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: