न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

वृद्धा-विधवा पेंशन के 5000 आवेदन कार्यालय में फांक रहे धूल

...और इधर विभाग द्वारा कैंप लगाकर लिया जा रहा है नया आवेदन

2,241

Chandan Choudhary

mi banner add

Ranchi : वृद्धा, विधवा एवं विकलांग महिलाओं को राज्य सरकार द्वारा प्रतिमाह जीवन यापन के लिए पेंशन देने की योजना है. लेकिन प्रशासनिक लेट-लतीफी के कारण लाभुकों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है. अब भी लगभग 5000 आवेदन अनुमंडल कार्यालय में धूल फांक रहे हैं. आवेदन देने वाले लाभुकों की आंखें भी पेंशन के इंतजार में अब पथरीली होती जा रही है. कई लाभुक पेंशन के इंतजार में स्वर्ग भी सिधार चुके हैं. कई लाभुकों का कहना है कि 2017 में ही आवेदन किये थे, लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ. कार्यालय के चक्कर लगाते-लगाते अब शरीर भी जवाब दे चुका है. कांके की रहने वाली 78 वर्षीय लक्ष्मी देवी ने बताया कि अप्रैल 2017 में आवेदन किये थे. लेकिन अब तक कुछ हो नहीं सका है. बार-बार दौड़ते-दौड़ते अब उम्मीद भी खो चुकी हूं. वहीं दूसरी ओर, अनुमंडल पदाधिकारी गरिमा सिंह का कहना है कि एक सप्ताह के अंदर सभी पेंडिंग आवेदनों को निबटारा कर दिया जायेगा. जिस कार्य को दो साल में पूरा नहीं किया गया, उसे एसडीओ एक सप्ताह में पूरा करने की बात कह रही हैं.

2017 से नहीं मिली रिक्तियां

अनुमंडल कार्यालय के पदाधिकारियों का कहना है कि आवेदनों का दबाव लगातार बढ़ता जा रहा है. लेकिन विभाग की ओर से कोई पहल नहीं हो रही है. स्टेट की ओर और वर्ष 2017 से अबतक रिक्तियां नहीं मिली हैं. केंद्र द्वारा चल रही इंदिरा गांधी पेंशन स्कीम में कुछ लाभुकों को डाला गया है. अधिकारयों ने बताया कि नगर निगम के चुनाव के वक्त आचार संहिता लगने से पहले ही कुछ रिक्तियां मिली थीं, जिस पर लाभुकों के आवेदन स्वीकृत किये गये थे. इसके बाद से रिक्तियां मिलना बंद हो गयी हैं.

विज्ञापन निकालकर लगातार लगाये जा रहे हैं कैंप

Related Posts

BOI में घुसे चोर, कैश वोल्ट तोड़ने की कोशिश नाकाम, कुछ सिक्के ले भागे

बैंक के आमाघाटा ब्रांच की घटना, मुख्य दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे चोर, ग्रिल भी तोड़ा

इधर सरकार लगातार अखबारों में विज्ञापन निकालकर वृद्धा, विधवा पेंशन के आवेदन के लिए कैंप लगा रही है. हर दिन अलग-अलग स्थानों पर कैंप लगाया जा रहा है. जहां से लगातार आवेदन भी प्राप्त हो रहे हैं. कई लोग पूछ रहे हैं कि पहले के आवेदन पर अबतक निर्णय नहीं लिया गया है, फिर नए आवेदन लेने का औचित्य ही क्या है. दूसरी ओर कर्मचारियों का कहना है कि कैंप लगाकर जैसे-तैसे आवेदन ले लिये जा रहे हैं. इसकी सही से जांच भी नहीं हो रही है. आधे-अधूरे भरे हुए आवेदन प्राप्त हो रहे हैं. आवेदनों को जांच के लिए फिर से अंचल कार्यालय भेजा जायेगा. इसमें और अधिक समय लग सकता है. फिलहाल हमलोग पूर्व के आवेदनों को पास होने के लिए इंतजार कर रहे हैं.

एक सप्ताह में हो जायेगा सभी आवेदनों का निबटारा : एसडीओ

अनुमडंल पदाधिकारी गरिमा सिंह ने कहा कि हां कुछ आवेदन पेंडिंग पड़े हुए है. इन पर कार्य चल रहा है. आदेश प्राप्त हुआ है एक सप्ताह में सभी आवेदनों का निबटारा कर दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंः मंडल डैम निर्माण के विरोध में आदिम जनजाति परिषद का प्रदर्शन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: