BokaroJharkhandRanchi

भारतमाला प्रोजेक्ट से जुड़े 50 रैयतों ने पेटरवार में मुखिया के पास मुआवजे के लिये लगायी गुहार

Ranchi: पेटरवार, बोकारो की सदमाकला पंचायत को भी केंद्र की भारतमाला प्रोजेक्ट में शामिल होने का मौका मिला है. इसके तहत इस पंचायत से होकर सिक्स लेन गुजरेगी. इसके कारण कम से कम 50 रैयतों की जमीन इसमें अधिग्रहित होनी है.

मंगलवार को सदमाकला पंचायत के चंद्रपुरा गांव में कुछ ग्रामीणों ने बैठक की. इस दौरान कार्यकारी समिति प्रमुख सावित्री देवी भी शामिल हुई.

उन्होंने भरोसा दिलाया कि जमीन अधिग्रहण और मुआवजा संबंधी मसले पर वे अपने ग्रामीणों की मदद करेंगी. जमीन की जो वाजिब कीमत रैयतों को मिलनी है, वे दिलाने में समुचित प्लेटफॉर्म पर बात करेंगी.

advt

इसे भी पढ़ें :झारखंड में ब्लैक फंगस भी घोषित होगी महामारी, अब तक 131 मामले

चबूतरा निर्माण के लिए जमीन विवाद का निदान

कार्यकारी समिति के प्रमुख औऱ ग्रामीणों के बीच हुई बैठक के दौरान कुछ ज़मीना विवाद का भी मामला सामने आया. विवाद के कारण शेड चबूतरा और चारदीवारी का निर्माण गांव में नहीं हो पा रहा था. पर इस बैठक में संबंधित पक्ष के लोगों ने सहमति जतायी और विवाद का हल निकाला गया.

मंडई सार्वजनिक स्थल के पास जगह तय हुआ. चबूतरा बनाने में गोमिया विधायक लंबोदर महतो से सहयोग मिलने का भरोसा ग्रामीणों को मिला. बैठक में ग्रामीणों की पेंशन और अन्य समस्याएं भी सामने आयी. सावित्री देवी ने इस पर एक्शन लेने की बात कही.

इसे भी पढ़ें :ALERT : नीति आयोग ने चेताया, नया डेल्टा वेरिएंट ज्यादा खतरनाक, कोविशिल्ड ज्यादा प्रभावी

पहली बार ग्रामीणों के सामने आयी मुखिया

गौरतलब है कि पूर्व मुखिया पंकज सिन्हा की वित्तीय शक्ति हाईकोर्ट के हस्तक्षेप के बाद 31 अक्टूबर, 2020 को छीन ली गयी थी.

इसके बाद उस दौरान तत्कालीन उप मुखिया सावित्री देवी को मुखिया पद (वर्तमान में कार्यकारी समिति प्रमुख) के दायित्वों का भार जिला प्रशासन ने दे दिया था. इसके बाद बतौर प्रमुख वे मंगलवार को पहली बार ग्रामीणों के समक्ष बैठीं.

इसे भी पढ़ें :बिहारः 250 एंबुलेंस खरीदे जायेंगे, डॉक्टरों व पारा मेडिकल कर्मियों को मिलेगा एक माह का अतिरिक्त वेतन

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: