न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : पर्यावरण धर्म और वनराखी मूवमेंट के 42 वें वर्षगांठ पर कार्यक्रम आयोजित

पौधा लगाकर बनें पुण्य के भागी : उपायुक्त, बिना हरियाली जीवन में खुशहाली नहीं : कौशल

259

Palamu: पौधारोपण से ज्यादा जरूरी पौधों का संरक्षण है. गांवों से ज्यादा शहरों का पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है. यह आनेवाले समय की भयावह स्थिति की ओर इशारा कर रहा है. इसलिए अब तक जाने अनजाने में जो कोई भी पर्यावरण को नुकसान करके पाप के भागी बने हैं, वे पेड़ लगाकर पुण्य के भागी बनें. अपने बेहतर भविष्य के लिए इससे बड़ा काम कुछ नहीं हो सकता है. उक्त बातें पलामू उपायुक्त अमित कुमार ने कही. वे बुधवार को पर्यावरणविद कौशल किशोर के आवास पर आयोजित नि:शुल्क पौधा वितरण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे.

इसे भी पढ़ें-सफाई नहीं होने से फैल रही है महामारी, निगम नहीं रांची एमएसडब्ल्यू है जिम्मेदार: पार्षद

कौशल किशोर जायसवाल के द्वारा पिछले 52 वर्षों से चलाये जा रहे देशव्यापी पौधरोपण और वितरण कार्यक्रम, पर्यावरण धर्म और वनराखी मूवमेंट के 42 वें वर्ष के मौके पर कार्यक्रम आयोजित किया गया.

पर्यावरण धर्म के आठ मूल मंत्र की दिलाई शपथ

कार्यक्रम की शुरूआत उपायुक्त अमित कुमार, कौशल किशोर जायसवाल व डाली पंचायत के मुखिया अमित कुमार जायसवाल ने पौधा लगा कर किया. पौधारोपण के बाद पर्यावरण धर्म के आठ मूल मंत्र की शपथ पर्यावरणविद कौशल किशोर जायसवाल ने सभी को दिलायी. मौके पर उपायुक्त अमित कुमार ने कौशल किशोर द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि पर्यावरण को बचाने की जिम्मेवारी सिर्फ एक व्यक्ति की नहीं है, पूरे समाज को इसके बारे में सोचना होगा. ताकि हमारी आनेवाली पीढ़ियां स्वच्छ हवा में सांस ले सके.

इसे भी पढ़ें-ईवीएम को आधार से लिंक करने की सोच रहा है चुनाव आयोग, विपक्ष ने कहा पहले UAID डाटा सुरक्षित करे सरकार

बच्चों की तरह रखें पौधों का ख्याल- कौशल किशोर

पर्यावरणविद कौशल किशोर जायसवाल ने कहा कि पेड़ पौधे को अपने बच्चों की तरह स्नेह व प्यार दें, तभी पेड़ पौधे सुरक्षित रहेंगे. उन्होंने कहा कि बिना हरियाली के जीवन में खुशहाली नहीं आ सकती. पलामू में रेगिस्तान जैसी स्थिति उत्पन्न होने लगी है. इससे उबरने के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाना ही एक मात्र रास्ता है.मौके पर डाली पंचायत मुखिया अमित कुमार जायसवाल ने कहा कि उनके पिता द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान को समाज के साथ मिलकर आगे तक ले जायेंगे.

पर्यावरण धर्म की शपथ दिलाते कौशल किशोर
पर्यावरण धर्म की शपथ दिलाते कौशल किशोर

इसे भी पढ़ें-नेतरहाट एवं इंदिरा गांधी आवासीय विद्यालय होगा सीबीएसई, राज्य के हर पंचायत में प्लस टू स्कूल खोलेगी सरकार

कार्यक्रम में कौन-कौन थे मौजूद ?

कार्यक्रम का संचालन विनय कुमार बिनू व धन्यवाद अरुण कुमार जायसवाल ने किया. कार्यक्रम में ज्ञान निकेतन की छात्राओं ने राष्ट्र गान व स्वागत गान प्रस्तुत किया. मौके पर संस्था के प्रधान सचिव पुनम जायसवाल , कोमल जायसवाल , शिल्पा जायसवाल, शिव चौधरी, शिशिर शुक्ला, पूर्व सैनिक ब्रजेश शुक्ला, मनिशंकर शर्मा, रागनी प्रकाश, निर्मला सिंह, निलम उपाध्याय, संदूल सिंह, अरूण मिश्रा, उपस्थित संतोष कुमार, राहुल सिन्हा, वार्ड पार्षद अमित सिंह, छोटन सिंह, पप्पू सिंह, बबन सिंह, बरूण सिंह, सूचित कुमार, अफजल अंसारी, कैलाश यादव, जुबेर अंसारी, कृष्णा सिंह, रामजन्म यादव, विनोद यादव, बंगाली उरांव, अंसारी, गुलाम साहिर ,गुलाम गौश,बशीर अंसारी, बृजकिशोर विश्व कर्मा , शिवनाथ राम समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: