न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

DU में नामांकन के लिए झारखंड से 4105 आवेदन, बीते साल से इसबार 20 हजार कम आये एप्लीकेशन

87

Ranchi : 12 वीं के बाद स्नातक करने के लिए दिल्ली विवि में पढ़ाई करना देशभर के स्टूडेंट्स के लिए किसी सपने से कम नहीं होता है. हर किसी का यह सपना पूरा हो जाए, यह संभव भी नहीं है. ऐसा स्वयं दिल्ली विश्वविद्यालय के एप्लीकेशन स्टेटस के आंकड़े बताते हैं. इस साल दिल्ली विवि. में सीटों की संख्या बढ़ाये जाने के बाद पिछले साल के मुकाबले इस साल आवेदन में गिरावट आयी है. इस साल के आंकड़े बताते हैं कि बीते साल से 20 हजार कम आवेदन आये हैं. फिर किसी भी कॉलेज के स्नातक स्तरीय कोर्स की एक सीट पर दाखिले के लिए चार विद्यार्थियों की दावेदारी है. ऐसे में एक्सपर्ट बताते हैं कि दाखिले को लेकर कंपीटिशन होगा ही.

इसे भी पढ़ें – निर्भया हत्याकांड: पांच दिनों की सीबीआइ रिमांड पर आरोपी राहुल रॉय, खुलेंगे कई राज

सीट बढ़े पर आवेदन हुआ कम

दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए पिछले साल की तुलना में सीटों में बढ़ोत्तरी की गयी है. फिर भी आवेदन की संख्या में गिरावट आयी है. पिछले साल की तुलना में इस साल 10 फीसदी सीट का इजाफा हुआ है. साल 2018 में स्नातक स्तर पर सीटों की संख्या जहां 57 हजार थी, वहीं इस साल सीटों की संख्या बढ़ाकर 63 हजार की गयी है.

आवेदन की बात करें तो बीते वर्ष 2,78,574 विद्यार्थियों ने आवेदन किया था. इस वर्ष 2,58,388 छात्रों ने आवेदन किये हैं. यह आंकड़ा पिछले वर्ष की तुलना में तकरीबन 20 हजार कम है.

इसे भी पढ़ें – पुलिस अफसर की गाड़ी में घूमता है और चेंबर में बैठता है कुख्यात अपराधी बिट्टू मिश्रा

आवेदकों में सामान्य श्रेणी की लड़कियां आगे

दिल्ली विवि में आवेदन प्रक्रिया समाप्त होने के बाद जो आंकड़े सामने आये हैं, उसके मुताबिक सामान्य श्रेणी के कुल आवेदन में छात्राओं की संख्या अधिक है. वहीं स्नातक में सामान्य श्रेणी से कुल 1,52,478 आवेदन आये हैं. जिनमें से 68,457 छात्र व 84,021 छात्राओं ने आवेदन किये हैं.

ओबीसी श्रेणी से 32,926 छात्र व 22,531 छात्राओं ने आवेदन किये हैं. एससी श्रेणी से आवेदन करने वाले छात्रों की संख्या 4044 है, जबकि छात्राओं की संख्या 3056 है. ईडब्ल्यूएस श्रेणी से 5528 छात्र व 3562 छात्राओं ने आवेदन किये हैं.

बिहार से 15120 व झारखंड से 4105 आवेदन

दिल्ली विवि में स्नातक, स्नातकोत्तर सहित कई अन्य कोर्स के लिए नामांकन प्रक्रिया चल रही है. इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. यहां नामांकन के लिए आवेदन करने वाले राज्यों में स्वयं दिल्ली सबसे आगे है. यहां से कुल 1,11,433 आवेदन आये हैं. दूसरे स्थान पर उत्तर प्रदेश है.

यहां से 49,009 आवेदन आये हैं. क्रम से हरियाणा से 34,501, बिहार से 15,120, राजस्थान से 9897, उत्तराखंड से 5304, मध्यप्रदेश से 4699, झारखंड से 4105, केरल से 3471 व पश्चिम बंगाल से 2953 आवेदन आये हैं.

इसे भी पढ़ें – सरायकेला में मॉब लिंचिंगः नफरत की आग ने आपके अपनों को हत्यारा बना ही दिया !

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: