न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड के 41 मजदूर सऊदी अरब में फंसे, सोशल मीडिया पर दी जानकारी

474

Giridih : झारखंड के 41 मजदूरों के साऊदी अरब में फंसे होने की खबर है. जानकरी के मुताबिक इन मजदूरों को पिछले आठ महीने से वेतन नहीं मिल रहा है. गौरतलब है कि सभी मजदूर ट्रांसमिशन लाइन में काम करने सऊदी अरब के रियाद गये हैं.

रियाद में फंसे हैं मजदूर

फंसनेवाले सभी मजदूर हजारीबाग के बगोदर और पीरटांड़, विष्णुगढ, बोकारो, गोमिया के रहनेवाले हैं. सभी मजदूर साल 2016 में रियाद गए थे. फंसे मजदूरों ने प्रवासी भारतीयों के लिए गिरिडीह के बगोदर के सामाजिक कार्यकर्ता सिकंदर अली द्वारा बनाये गए व्हाट्सएप ग्रुप में इस बात की जानकारी दी और साथ ही उन्होंने वीडियो और फंसे हुए मजदूरों के नाम शेयर किए हैं. जो सूचना मजदूरों ने डाली है उसके अनुसार मजदूर अरबियन टीम्स कांट्रेक्टिंग स्टेबलस्टिमेंट कंपनी में काम करने गए थे. कम्पनी ने 2017 के अक्तूबर तक की मजदूरी दी लेकिन उसके बाद से भुगतान नहीं किया.

इसे भी पढ़ें- घाटे में चल रही IDBI में 13 हजार करोड़ निवेश करेगी LIC

एक ही वक्त का मिलता है खाना

मजदूरों ने व्हाट्सएप ग्रुप में डाले मैसेज, वीडियो और वॉइस मैसेज में कहा है कि उन्हें एक वक्त का ही खाना मिल रहा है. और सभी को एक ही कमरे में रखा गया है.

फंसे हुए मजदूरों के नाम

रियाद में फंसे हुए मजदूरों में संजय कुमार महतो, अजय कुमार महतो, सुबोध कुमार महतो, बसंत महतो, सुरेंद्र महतो, धनेश्वर महतो, इंद्र देव महतो, विश्वनाथ महतो, लालजीत कुमार, रामेश्वर साहू, लालचंद महतो, गोविंद महतो, जगदीश महतो, रामेश्वर महतो, सुभाष कुमार महतो, टोकन महतो, बाबूलाल महतो, महेंद्र महतो, मिथिलेश महतो, रेवतलाल महतो, सहदेव महतो, टिंकू महतो, अजय कुमार महतो, विष्णुगढ़ के भागीरथ महतो, रेशो कुमार महतो, रोहित कुमार महतो, शंकर कुमार, जगलाल महतो, रवि कुमार महतो, भोला महतो, कौलेश्वर महतो, ठाकुर रविदास, सेवा महतो, बालेश्वर महतो, गोमिया के श्यामलाल महतो, दीपचंद महतो, विजय कुमार, मनोज कुमार गोमिया, कोलेश्वर महतो तो बरकट्ठा के प्रमोद कुमार महतो शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें- जल संसाधन विभाग के 94 इंजीनियर्स पर हैं भ्रष्‍टाचार के आरोप, बिना दंडात्‍मक कार्रवाई के अब हो रहे हैं रिटायर

परिजनों को दी गयी है जानकारी: सिकंदर

समाजिक कार्यकर्ता सिकंदर अली ने बताया कि मजदूरों के परिजनों को जानकारी देने के बाद आगे की पहल की जा रही है. मामले से विदेश मंत्रालय को भी अवगत कराया जाएगा. इधर, मामले पर पुलिस इंस्पेक्टर राम नारायण चौधरी ने कहा कि अभी तक किसी भी मजदूर के परिजनों ने इसकी जानकारी नहीं दी है. वैसे वे इस मामले को देखेंगे. वहीं, बगोदर थाना प्रभारी राजीव कुमार ने कहा कि मामले की जानकारी लेंगे और इसपर कार्रवाई की जाएगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: