JharkhandRanchi

लॉकडाउन के बीच खुलेंगे 3500 लघू और मध्यम उद्योग, निगम के बाहर के उद्योगों को शुरू करने की तैयारी

Ranchi :  राज्य में औद्योगिक इकाइयों को खोलने की तैयारी चल रही है. गृह मंत्रालय भारत सरकार की ओर से पूर्व में ही 20 अप्रैल से नगर निगम क्षेत्र के बाहर स्थित औद्योगिक इकाइयों को खोलने की बात की गयी है. जिसके लिए कई दिशा निर्देश भी जारी किये गये. जिसका पालन किया जाना अनिवार्य है. राज्य में उद्योग विभाग की ओर से इस संबध में पहले ही पत्र जारी किया गया. जिसमें राज्य के 20 बड़े उद्योगों के नाम यह पत्र जारी किया गया.

पत्र में डीसी की ओर से दिये गये निर्देश को जरूरी बताया गया. एक अनुमान है की राज्य में सोमवार से लगभग 3500 उद्योग खुल सकते हैं. अगर जिला उपायुक्तों की ओर से आज शाम तक आदेश जारी किया जाता है तो.  3500 उद्योग खुलने के बाद राज्य को आर्थिक गति मिलेगी. लॉकडाउन वन के समय से ही राज्य के लगभग 40 हजार लघु और मध्यम उद्योग बंद हैं.

जिसे अब एक महीने होने को है. ऐसे में राज्य सरकार को इन उद्योग व्यापार से एक बड़ी रकम का नुकसान हुआ.

advt

इसे भी पढ़ेंः #Corona से जंग के बीच इंदौर में थाना प्रभारी की वायरस से मौत, यूपी में 43 नये केस

40 हजार उद्योगों में से 3500 निगम क्षेत्र के बाहर

जेसिया अध्यक्ष फिलिप मैथ्यू की मानें तो राज्य में लगभग 40 हजार लघू और मध्यम उद्योग है. इनमें से निगम क्षेत्र के बाहर 3500 उद्योग है. जिला उपायुक्तों की ओर से नगर निगम या निकाय क्षेत्र के बहार स्थित उद्योगों को खोलने की अनुमति दी जानी है. बड़ी संख्या में कारखाने इस आदेश के बाद खुलने से वंचित रहेंगे. फिलहाल राज्य का कोई भी जिला रेड जोन में नहीं है. जिससे इन उद्योगों को खुलने की अनुमति मिल सकती है.

सिर्फ रांची जिला में ओरमांझी, टाटीसिलवे, ईटकी आदि इलाकों को मिलाकर लगभग पांच सौ उद्योग होंगे जो खुल सकते है. राज्य में कुछ ऐसे भी जिले हैं जहां एक भी उद्योग नहीं है. राज्य के अधिकांश बड़े उद्योग ग्रामीण क्षेत्र में हैं. ऐसे में उनका खुलना संभव है. जिनकी संख्या लगभग 20 है. जिसमें टाटा स्टील, टाटा मोर्टस, जिंदल एंड पावर प्लांट आदि हैं.

इसे भी पढ़ेंः #CoronaUpdates: धनबाद में रेलकर्मी के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन रेस, लोगों को क्वॉरेंटाइन कर जगह को सेनेटाइज करने की तैयारी

adv

रामगढ़ और देवघर जिले में दी गयी है अनुमति

विभाग की ओर से 15 अप्रैल को ही इस संबध में जिला उपायुक्तों को पत्र जारी किया गया. जिसके बाद सबसे पहले रामगढ़ डीसी ने उद्योगों को खोलने की अनुमति दी. जानकारी मिली है की रामगढ़ डीसी की ओर से जारी आदेश में सभी निर्देश काफी स्पष्ट हैं. जिससे जिले में 20 अप्रैल से उद्योग खोले जायेंगे. इसके साथ ही देवघर डीसी ने भी पिछले दिनों आदेश जारी किया. लेकिन इन जिलों में कारखाना संचालकों को खुद ही जाकर डीसी से अनुमति लेनी है.

इसके लिए डीसी की ओर से स्क्रूटनी भी की जा रही है. जेसिया से जानकारी मिली की अन्य किसी भी जिले से अब तक उद्योग खोलने की अनुमति नहीं दी गयी है. हालांकि उद्योग विभाग ने यह दायित्व डीसी को सौंपा है. जिसमें सेनेटाइजर, सोशल डिस्टेंसिंग समेत अन्य निर्देशों का पालन करते हुए उद्योग खोले जाने हैं. रांची की जानकारी देते हुए जेसिया सचिव अंजय पचेरीवाल ने कहा की रांची में लगातार मरीज मिल रहे हैं. ऐसे में जनहित ध्यान में रखते हुए ही कोई भी निर्णय लिया जायेगा.

कौन से कौन उद्योग खोले जाने हैं

गृह मंत्रालय के निर्देश अनुसार औद्योगिक टाउनशिप, औद्योगिक संपदा, ऑटोमोबाईल्स, विनिमार्ण, औद्योगिक उपकरण, खाद्य प्रसंस्करण, कोयला, खान, पैकेजिंग आदि इकाइयों को खोलने की अनुमति है. लेकिन इसमें दिशा निर्देशों और स्वच्छता का पालन करते हुए काम किये जाने हैं.

इसे भी पढ़ेंः #कोटा में फंसे स्टूडेंट्स की बात, हम पहुंचाएंगे सरकार के पास, ताकि यूपी की तरह आपकी हो सुरक्षित घर वापसी

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button