न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड में पहले चरण के दौरान दर्ज हुए आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के 347 मामले, 34 प्राथमिकी भी

रांची में सी-विजिल एप से सर्वाधिक 84 शिकायतें दर्ज करायी गयीं, जिसमें 26 सही पाये गये

691

Ranchi: झारखंड में आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के 347 मामले नौ अप्रैल तक दर्ज कराये गये हैं. इसकी घोषणा राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एल खियांग्ते ने की.

उन्होंने बताया कि आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायतें निर्वाचन आयोग की तरफ से जारी किये गये सी-विजिल एप से किये गये.

इसमें राजधानी रांची में सबसे अधिक यानी 84 कंपलेन किये गये, जिसमें से 26 को सहायक निर्वाची पदाधिकारी और निर्वाची पदाधिकारियों ने सही पाया. कुल दर्ज शिकायतों में से 108 मामले सही पाये गये.

इसे भी पढ़ेंःमुरी हादसा : कास्टिक तालाब धंसने के 40 घंटे बाद मलबा हटाने का काम शुरू, NDRF की टीम जुटी

99 मामलों को ड्रॉप कर दिया गया. डीसीसी कमेटी की तरफ से 136 शिकायतों को रद्द कर दिया गया. जानकारी के अनुसार, हजारीबाग में 18, जामताड़ा में 18, जमशेदपुर में 32, धनबाद में 29, देवघर में 16, गिरिडीह 19, गोड्डा में 18 शिकायतें दर्ज की गयीं. ये सभी शिकायतें 11 मार्च के बाद से जागरुक मतदाताओं ने अपने मोबाइल से मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में दर्ज करायीं.

इसे भी पढ़ेंःचौकीदार के कारण आखिर क्यों ग्रामीण बना माओवादी, जानिए सबजोनल कमांडर प्रदीप सिंह चेरो की पूरी कहानी

SMILE

10 अप्रैल तक आदर्श आचार संहिता के लिए 34 प्राथमिकी दर्ज

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि 10 अप्रैल तक आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से संबंधित 34 मामले दर्ज कराये गये. सबसे अधिक प्राथमिकी बोकारो में दर्ज करायी गयी.

बोकारो में आठ, हजारीबाग में सात, रांची में पांच, चतरा में तीन मुकदमे दर्ज किये गये. इसके अतिरिक्त गोड्डा, गुमला, पाकुड़, गढ़वा, पलामू, देवघर में भी प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है.

इसे भी पढ़ेंःकहीं ‘राम’ की वजह से ‘टहल’ ना जाये रांची में ‘बीजेपी’

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: