न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

33 चीजों के दाम 18 % से घटकर 12 या 5 फीसदी के GST स्लैब में, जानें क्या हुआ सस्ता

TV-कंप्यूटर मॉनिटर, पावर बैंक, यूपीएस, टायर, एसी, डिजिटल कैमरा, वॉशिंग मशीन सस्ते

2,152

New Delhi: जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद आम आदमी के लिए थोड़ी राहत की खबर आयी है. शनिवार को हुई बैठक में 33 सामान के दाम 18 फीसदी के जीएसटी स्लैब से घटकर 12 या 5 फीसदी के स्लैब में आ गये हैं. इससे सामानों की कीमत में लोगों को राहत मिलेगी. बैठक में शामिल पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने कहा कि सरकार ने दैनिक इस्तेमाल में आने वाली 33 वस्तुओं को 18% स्लैब से घटाकर 12% और 5% स्लैब में डाला गया है. उन्होंने कहा कि हमने सरकार से सभी वस्तुओं को 18% और उससे नीचे के टैक्स स्लैब में लाने की मांग की थी.

केवल 34 वस्तुओं को छोड़कर बाकी सभी वस्तुएं 18% और उससे नीचे की स्लैब में लाई गई है.वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में ये अहम बैठक हुई. सरकार का लक्ष्य है कि 28 फीसदी स्लैब में अब सिन गुड्स और लग्जरी प्रोडक्ट्स को ही रखा जाए.

किन चीजों की घटी कीमत

जीएसटी काउंसिल की 31वीं बैठक में लग्जरी वस्तुओं और तंबाकू-सिगरेट को छोड़कर रोजमर्रा की सभी वस्तुओं को 18 फीसदी या उससे भी कम जीएसटी के दायरे में लाया गया है. रोजमर्रा की इन वस्तुओं में कंप्यूटर मॉनिटर, पावर बैंक, यूपीएस, टायर, एसी, डिजिटल कैमरा, वॉशिंग मशीन और पानी गर्म करने वाला हीटर शामिल है. वही सीमेंट को 28 फीसदी के स्लैब से हटाकर 18 फीसदी में लाया गया है. दरअसल सीमेंट की बढ़ती कालाबाजारी को लेकर ये कदम उठाया गया है. इसके साथ ही सिनेमा के 100 रुपये तक के टिकट पर अब 18 प्रतिशत की बजाय 12 प्रतिशत का जीएसटी; 100 रुपये से ऊपर के टिकट पर 28 प्रतिशत की बजाय 18 फीसदी जीएसटी लगेगा.

वस्तु28% पर जीएसटी पर कीमत18% जीएसटी पर कीमतअंतर
सीमेंट300 रुपए277 रुपए23 रुपए कम
टायर3,000 रुपए2766 रुपए234 रुपए कम
एसी25,000 रुपए23,047 रुपए1,953 रुपए कम
टीवी, कंप्यूटर मॉनिटर20,000 रुपए18,438 रुपए1,563 रुपए कम
डिजिटल कैमरा10,000 रुपए9,219 रुपए781 रुपए कम
कार4 लाख रुपए3.68 लाख रुपए31,250 रुपए कम
बाइक50,000 रुपए46,094 रुपए3,906 रुपए कम

 

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18 दिसंबर को मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान जीएसटी दरों में और कमी होने के संकेत दिये थे. प्रधानमंत्री ने कहा था कि सरकार जल्द ही 28 फीसदी स्लैब में केवल 1 फीसदी आइटम रखेगी.

इसे भी पढ़ेंःसेवा में बने रह सकते हैं अपर मुख्य सचिव खंडेलवाल, वीआरएस से पहले गये छुट्टी पर

इसे भी पढ़ेंः मिनिमम बैलेंस न होने पर साढ़े तीन सालों में सरकारी बैंकों ने ग्राहकों से वसूले 10 हजार करोड़

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: