न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रातू के 30 छात्र अचानक हुए फूड प्वाइजनिंग से बीमार, संस्थान के निदेशक ने बताया मामूली बुखार  

सुबह होते ही सभी को कर दिया गया डिस्चार्ज, संस्थान के निदेशक ने कहा मौसमी बीमारी थी

38

Ranchi : कौशल शिक्षण संस्थान एक्सेल डाटा सर्विसेज के 30 छात्र फूड प्वाइजनिंग के शिकार हो गये. सभी छात्रों को रात के ढ़ाई बजे रिम्स के इमरजेंसी में भर्ती कराया गया और सुबह होते ही सभी को डिस्चार्ज भी करा लिया गया. एडमिट कराये गये सभी छात्रों की उम्र 18 से 30 वर्ष के अंदर ही है. बताया जा रहा है कि सभी छात्र रातू स्थित एक्सेल डाटा सर्विसेज में फीटर और इलेक्ट्रिकिल का कोर्स कर रहे हैं. रात में जब इनसब ने मेस का खथाना खाया तो उसके बाद ही सबकी तबियत  बिगड़ने लगी. संस्थान की ओर से इन सभी को आनन-फानन में रिम्स में भर्ती कराया गया.

लेकिन 30 छात्रों के खाना खाते ही एक साथ बीमांर होने पर संस्थान के निदेशक विश्वजीत मिश्रा और रातू थाना प्रभारी ने इसे फूड प्वाइजनिंग मानने से इंकार किया है. रातू थाना प्रभारी ने बताया कि सिर्फ तीन ही छात्रों को उल्टी की शिकायत हुई, जिन्हें इलाज के लिए रिम्स भेजा गया. लेकिन दो छात्रों के बीमार होते ही बाकि छात्रों ने भी तबियत खराब की शिकायत की , जिससे सभी को रिम्स लाया गया. लेकिन दो को छोड़कर सभी को नॉर्मल पाया गया.

सिर्फ दो छात्र हुए थे बीमार 

वहीं संस्थान के निदेशक विश्वजित मिश्रा ने बताया कि दो छात्रों की तबियत खराब होने की सूचना रात में जैसे ही मिला. तो उन्हें 108 नंबर से संपर्क कर एंबुलेंस मंगवाया गया और दोनों को रिम्स लाया गया. साथ ही निदेशक ने कहा कि दो की तबियत खराब होता देख बाकि छात्रों को भी लगा कि वे भी अपनी जांच करा लें. इस वजह से कुछ और भी छात्रों को रिम्स लाया गया. जिन्हें   मामूली जांच के बाद डिस्चार्ज करा दिया गया. इसके अलावा बताया कि सिर्फ दो छात्रों को स्लाइन चढ़ाया गया और वे भी जल्दी ही नॉर्मल हो गये. जिससे सभी को सुबह संस्थान ले आया गया.

रातू के 30 छात्र अचानक हुए फूड प्वाइजनिंग से बीमार, संस्थान के निदेशक ने बताया मामूली बुखार
रिम्स में एडमिट छात्रों की लिस्ट
Related Posts

राज्य के सभी 36 हजार सरकारी स्कूलों में बनाये जायेंगे सोक पिट, गर्मियों में काम आयेगा पानी

कल बनायें, जल बचायें अभियान : स्कूल प्रबंधन समिति, स्थानीय पंचायत और जनप्रतिनिधियों के आपसी सामंजस्य से होगा निर्माण

SMILE

एक्सेल डेटा सेंटर में हैं 94 छात्र

विश्वजित मिश्रा ने बताया कि संस्थान में कुल 94 छात्र हैं. जिसमें 80 छात्र अध्ययनरत हैं. सभी सेंटर के ही हॉस्टल में रहते हैं और खुद ही खाना बनाते हैं. लेकिन दो-तीन मेस से भी खाना मंगवाया गया था. रविवार की रात भी सभी ने मेस का खाना खाया था और खाना खाते ही सबकी तबियत बिगड़ने लगी. इसे गंभीरता से लेते हुए इलाज के लिए तुरंत रिम्ल लाया गया. साथ ही मिश्रा ने कहा कि यदि फूड प्वाइजनिंग होता तो सभी छात्र बीमार पड़ते. लेकिन बीमार छात्रों को सिर्फ ठंड लगने की वजह से सामान्य बुखार था.

इसे भी पढ़ें – डीटीओ संजीव कुमार के खिलाफ वारंट लेकर दिल्ली पुलिस पहुंची ऑफिस, गिरफ्तारी की उड़ी अफवाह

इसे भी पढ़ें – सौभाग्य की रिपोर्ट में दावा : झारखंड में सरकार ने पहुंचायी 32478 गांवों में बिजली

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: