Education & CareerJharkhandLead NewsNEWSRanchi

झारखंड के 2854 स्कूल बनेंगे स्मार्ट, प्रोजेक्टर के साथ आईसीटी लैब की सुविधा

Ranchi : राजधानी सहित राज्यभर के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी अब निजी स्कूलों की तरह स्मार्ट क्लास व आईसीटी प्रयोगशाला के माध्यम से पठन-पाठन कार्य करेंगे. स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने राज्य के 2854 स्कूलों में स्मार्ट क्लास, प्रोजेक्टर, आईसीटी प्रयोगशाला व टेलीविजन स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

1854 स्कूलों में स्मार्ट क्लास व आईसीटी प्रयोगशाला स्थापित किये जायेंगे

1854 स्कूलों में स्मार्ट क्लास व आईसीटी प्रयोगशाला एवं 1000 स्कूलों में स्मार्ट क्लास के माध्यम से विद्यार्थी अध्ययनरत होंगे. इसके लिए स्कूलों का चयन कर लिया गया है. चयनित विद्यालय के एक कक्षा कमरे को स्मार्ट क्लास में परिवर्तित किया जाना है.

हाईटेक तरीके से पढ़ेंगे बच्चे

Sanjeevani

विद्यार्थियों को सुयोग्य एवं अनुभवी शिक्षकों द्वारा हाईटेक तरीके से पढ़ाया जाएगा. विभाग का मानना है कि बच्चों की क्षमता, रूचि व प्रतिभाओं को पहचानकर विकसित करने की जरूरत है. राजधानी के 77 सरकारी स्कूलों में आईसीटी प्रयोगशाला एवं 56 स्कूलों में स्मार्ट क्लास से विद्यार्थी पढ़ाई सुनिश्चित करेंगे.

क्या कहते हैँ विभागीय सचिव

स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव राजेश कुमार शर्मा ने कहा कि सितंबर माह से 2854 सरकारी स्कूलों में डीजिटल प्रणाली से पठन-पाठन कार्य शुरू करने की दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी गई है. संभवत: सितम्बर माह से शुरू कर दी जायेगी.

इसे भी पढ़ें : झारखंड में कोरोना रिकवरी रेट 99 परसेंट के करीब, फिर भी अलर्ट रहने की जरूरत

 

Related Articles

Back to top button