JamshedpurJharkhandRanchi

EXCLUSIVE : नेशनल पार्क और जू में प्लास्टिक के उपयोग और कचरा फैलाने पर लगेगा 25 हजार जुर्माना

पहले पर्यावरण संरक्षण अधिनियम के तहत 200 रुपये स्पॉट फाइन व 6 माह की कैद का था प्रावधान, अब वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत होगी कार्रवाई

Rajnish Tiwari

Jamshedpur : कोरोना के कारण करीब दो वर्ष तक बंद रहे नेशनल पार्क व चिड़ियाघरों को गत दिनों अनलॉक-3 के साथ खोल दिया गया है, पर अब पार्क या जू में घूमने के दौरान आपको और भी सतर्कता बरतनी पड़ेगी. अगर नेशनल पार्क या जू में प्लास्टिक उपयोग करते या कचरा फैलाते पाए गए तो आपको मोटी रकम बतौर जुर्माना अदा करनी पड़ सकती है. जी हां, अब वन विभाग ने भी वन्य जीव संरक्षण अधिनियम-1972 के तहत राज्य के सभी नेशनल पार्क या जू में प्लास्टिक उपयोग और कचरा फैलाने पर पूर्णतः प्रतिबंध लगा दिया है. इसके तहत अब नेशनल पार्क में प्लास्टिक उपयोग करते या कचरा फैलाते पाए जाने पर 25 हजार रुपए तक का जुर्माना और तीन साल तक की कारावास की सजा हो सकती है. जबकि पहले सिर्फ पर्यावरण संरक्षण अधिनियम के तहत सिर्फ 200 रुपए स्पॉट फाइन व 6 माह तक की कारावास की कार्रवाई का प्रावधान था.

चीफ वाइल्डलाइफ वार्डन ने सभी पार्क व जू को जारी किया आदेश 

झारखंड सरकार के प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य जीव) सह मुख्य वन्य प्राणी प्रतिपालक  की ओर से इस नये संशोधित नियम को लेकर राज्य के सभी नेशनल पार्क और जू को लिखित आदेश जारी कर दिया गया है. इनमें दलमा वाइल्ड लाइफ सेंचुरी भी शामिल हैं. इसके अलावा बेतला नेशनल पार्क, रांची के ओरमांझी स्थित भगवान बिरसा जैविक उद्यान, कालीमाटी स्थित बिरसा मृग विहार व पलामू टाइगर रिजर्व आदि भी शामिल हैं.

पहले पार्क व जू में प्लास्टिक उपयोग या कचरा फैलाने पर पर्यावरण संरक्षण अधिनियम के तहत ही कार्रवाई होती थी. पर अब इस मद में वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत भी कार्रवाई होगी. इसके तहत पीसीसीएफ कार्यालय की ओर से नया आदेश जारी करते हुए दलमा समेत सभी नेशनल जू व नेशनल पार्क में प्लास्टिक उपयोग और कचरा फैलाने पर पूर्णतः प्रतिबंध लगा दिया गया है. इसका उल्लंघन करने पर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम-1972 की धारा 51ए के तहत 25 हजार रुपए जुर्माना या तीन साल का कारावास या दोनों की सजा होगी. इस नियम को एक नवंबर से दलमा में लागू कर दिया गया है.
– डॉ अभिषेक, डीएफओ

Advt

Related Articles

Back to top button