न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

24 घंटे बाद भी मंत्री सीपी सिंह के भांजे की नहीं हुई गिरफ्तारी, परिजनों ने एसएसपी से की शिकायत

25

News Wing Ranchi, 04 December: मंत्री सीपी सिंह के भांजे और भाजपा नेत्री नीलम सिंह के बेटे राहुल सिंह समेत अन्य के खिलाफ गंभीर आरोप लगने के बाद अबतक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पायी है. एक लड़की ने राहुल सिंह समेत अन्य पर नशे की दवा खिलाकर अश्लील वीडियो बनाने, ब्लेकमैल करने और अपहरण कर 14 लाख की फिरौती वसूलने का आरोप लगाया है. इस संबंध में रविवार को लालपुर थाना में शिकायत दर्ज करायी गयी. एक दिन बाद भी मामले के किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से नाराज पीड़िता के परिजनों ने एसएसपी से इसकी शिकायत की. एसएसपी के कहने पर डीएसपी ने लालपुर थाना में लड़की का बयान दर्ज किया. वहीं परिजनों ने अदालत में 164 के तहत लड़की का बयान दर्ज कराया है.

यह भी पढ़ेंः राहुल व सीमा की शादी में गवाह बने अजीत सिंह ने मैरेज सर्टिफिकेट में खुद को मंत्री सीपी सिंह का बताया बेटा

बदमाशों से कराया जाता है पीछा

परिजनों ने बताया कि रामगढ़ से रांची तक उनलोगों का पीछा किया जाता है. 2 नवम्बर को चरही स्थित आवास पर कुछ गुंडों के साथ पहुंच कर धमकाया गया था. इसकी सूचना चरही थाना को दी गई थी. वहीं सोमवार को लालपुर थाना और कोर्ट परिसर में राहुल सिंह के भेजे गुंडों ने पीछा किया.

यह भी पढ़ें – भाजपा नेत्री के बेटे पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगाने वाली युवती ने सुनिये क्या कहा (देखें वीडियो)

राहुल सिंह ने चुटिया थाना में दर्ज कराया सनहा, खुद को बताया बेकसूर

लड़की पक्ष के ओर लालपुर थाना में मामला दर्ज होने के बाद राहुल सिंह ने चुटिया थाना में सनहा दर्ज कराया है, जिसमें राहुल ने खुद को बेकसूर बताया है. उसने कहा कि लड़की का अपहरण नहीं हुआ था, बल्कि लड़की ने खुद राजी होकर शादी की थी. शादी के बाद वे चले गए थे. इसके बाद लड़की के परिजनों ने लड़की को बताया कि उसके पिता बीमार हैं. बीमारी के नाम पर बुलाया गया और कहा गया कि हिन्दू रीति रिवाज से इसी माह शादी किया जायेगा, लेकिन लड़की से दोबारा मिलने नहीं दिया गया है. 

यह भी पढ़ें – रांचीः भाजपा नेत्री के बेटे पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप, चंगुल से भागी युवती ने बतायी आपबीती          

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: