न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

14 सीटों पर 229 उम्मीदवार लोकसभा चुनाव में उतरे, 202 जमानत भी नहीं बचा सके

हजारीबाग से भुनेश्वर मेहता, कोडरमा से माले के राजकुमार यादव की भी जमानत जब्त

309

Pravin kumar

mi banner add

Ranchi: झारखंड में लोकसभा चुनाव के परिणाम काफी चौंकानेवाले रहे. भाजपा उम्मीदवार कई सीटों पर लाखों वोट के अंतर से जीते. चतरा सीट से महागठबंधन उम्मीदवार कांग्रेस के मनोज कुमार यादव की जमानत जब्त हो गयी. किसी भी उम्मीदवार को अपनी जमानत बचाने के लिए मतदान का 16.6% मत लाना अनिवार्य होता है. झारखंड में चुनाव लड़नेवाले उम्मीदवारों में से मात्र 27 उम्मीदवारों की ही जमानत बच सकी. इनमें 14 विजयी उम्मीदवार रहे और 13 दूसरे नंबर पर रहनेवाले उम्मीदवार.

इसे भी पढ़ें – सीपी चौधरी के सांसद बनते ही झारखंड कैबिनेट में मंत्रियों के लिए दो सीट वेकेंट, दौड़ में दिग्गज

राजद के सुभाष यादव भी नहीं बचा सके जमानत

चतरा लोकसभा सीट से 16 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा. भाजपा उम्मीदवार ने 57.4 प्रतिशत वोट लाकर जीत दर्ज की. वहीं कांग्रेस उम्मीदवार मनोज कुमार यादव और आरजेडी के सुभाष प्रसाद यादव की अन्य 25 उम्मीदवारों के साथ जमानत जब्त हो गयी. धनबाद लोकसभा में 20 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा. जिनमें से भाजपा के पशुपति नाथ सिहं ने 66.03 प्रतिशत वोट प्राप्त किये. वहीं कांग्रेस उम्मीदवार कीर्ति झा आजाद 27.22 प्रतिशत वोट लाकर दूसरे स्थान पर रहे. बाकी 18 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी. दुमका में 13 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे. भाजपा के सुनील सोरेन ने जीत दर्ज की. वहीं झामुमो अध्यक्ष दिशोम गुरु शिबू सोरेन को करारी हार का सामना करना पड़ा. अन्य 11 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई. गिरिडीह लोकसभा सीट पर 13 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा. जिनमें आजसू के सीपी चौधरी को 58.67 प्रतिशत वोट मिले. झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्मीदवार दूसरे स्थान पर रहे. अन्य 11 का जमानत जब्त हो गयी.

भुनेश्वर मेहता की भी नहीं बची जमानत

गोड्डा लोकसभा सीट से 13 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा था. जिनमें भाजपा उम्मीदवार की जीत हुई और प्रदीप यादव दूसरे स्थान पर रहे. यहां 11 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई. हजारीबाग से 16 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा. भाजपा के जयंत सिन्हा ने 4 लाख से अधिक वोटों से जीत दर्ज की. कांग्रेस उम्मीदवार दूसरे स्थान पर रहे. अन्य 14 उम्मीदवार, जिनमें सीपीआइ के भुनेश्वर मेहता की भी जमानत जब्त की गयी. जमशेदपुर में 23 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा. जिनमें भाजपा उम्मीदवार विद्युत वरण महतो ने 3 लाख से अधिक वोटों से जीत दर्ज की. वहीं जेएमएम उम्मीदवार दूसरे स्थान पर रहे. इनमें 21 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी.

इसे भी पढ़ें – विजय जुलूस के दौरान हुई झड़प के बाद कतरास में फिर तनाव, पुलिस ने भीड़ को खदेड़ा

खूंटी लोकसभा सीट की मतगणना में काफी उतार-चढ़ाव देखा गया. भाजपा उम्मीदवार काफी कम अंतर से चुनाव जीते. दूसरे स्थान पर कांग्रेस के उम्मीदवार रहे. अन्य नौ उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी.  कोडरमा लोकसभा सीट पर महागठबंधन ने काफी मशक्त की. इसके बावजूद झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को चार लाख से अधिक वोटों से हार मिली. वहीं राजकुमार यादव सहित अन्य 11 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी.

Related Posts

बेरमो : खेतको में दामोदर नदी के घाट से बालू का अवैध उठाव जारी

प्रतिदिन पचासो की संख्या में टैक्टरों से बालू का उठाव किया जा रहा है.

लोहरदगा में 12 उम्मीदवारों की जमानत नहीं बची

लोहरदगा लोकसभा सीट से केंद्रीय मंत्री सुर्दशन भगत ने जीत दर्ज की है. पहली बार लोहदगा सीट पर किसी उम्मीदवार ने अपनी हैट्रिक लगायी. इस सीट से पूर्व में कार्तिक उरांव से लेकर सुमति उरांव तक चुनाव जीतते रहे लेकिन, इन उम्मीदवारों ने कभी हैट्रिक नहीं लगायी थी. वहीं दूसरे स्थान पर कांग्रेस के सुखदेव भगत हैं. जबकि अन्य 12 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी.

इसे भी पढ़ें – 2014 से ही शाह ने शुरू कर दी थी 2019 की तैयारी : 161 कॉल सेंटर्स, 15,600 कॉलर्स के जरिये 20 करोड़ वोटर्स तक पहुंचे

पलामू लोकसभा सीट में बड़े अंतर से विष्णु दयाल राम ने चुनाव जीता. दूसरे स्थान पर राजद के घूरन राम रहे. जबकि अन्य 17 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई. राजमहल लोकसभा सीट पर कुल 14 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा. जिनमें झारखंड मुक्ति मोर्चा उम्मीदवार विजय हांसदा ने महागठबंधन की ओर से सबसे बड़ी जीत दर्ज की.  वहीं दूसरे स्थान पर भाजपा के हेमलाल मुर्मू हैं. जबकि अन्य 12 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई.

रामटहल की जमानत जब्त

रांची से दो लाख 84 हजार वोट से भाजपा उम्मीदवार संजय सेठ ने जीत दर्ज की. दूसरे स्थान पर सुबोधकांत सहाय रहे इस सीट से रामटहल चौधरी सहित अन्य 18 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी. सिंहभूम सीट से  गीता कोड़ा चुनाव जीतीं. वहीं दूसरे स्थान पर भाजपा उम्मीदवार लक्ष्मण गिलुआ रहे. भाजपा को इस सीट पर करारी चोट खानी पड़ी है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ को मोदी लहर भी उबार नहीं सका. जबकि इस सीट पर अन्य सात उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी है.

इसे भी पढ़ें – कांग्रेस कार्य समिति की बैठक शनिवार को, राहुल गांधी इस्तीफे की पेशकश कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: