JharkhandPalamu

पलामू संसदीय क्षेत्र में बनेंगे 220 मॉडल बूथ, 46 सखी मतदान केंद्र बनाये जायेंगे : उपायुक्‍त

Palamu : चुनाव आयोग से लोकसभा चुनाव की तिथि और आदर्श आचार संहिता की घोषणा होते ही इसकी तैयारी तेज हो गयी है. पलामू के जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि ने भारत निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित आम चुनाव-2019 के आलोक में सोमवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में जानकारी दी कि पलामू संसदीय सीट (सुरक्षित) के लिए चुनाव 29 अप्रैल को होंगे. इसके लिए नामांकन प्रारंभ होगा 2 अप्रैल को. नामांकन की अंतिम तिथि 10 अप्रैल है. नामांकन पत्रों की जांच 12 अप्रैल को होगी और मतदान 29 अप्रैल को होगा.

इसे भी पढ़ेंः मोदी सरकार की नीतियां और सोच संविधान के खिलाफः ज्यां द्रेज

मॉडल बूथ और सखी मतदान केंद्रों पर समुचित व्यवस्था होगी

Catalyst IAS
ram janam hospital

उपायुक्त ने बताया कि इस बार पलामू संसदीय क्षेत्र में 220 मॉडल बूथ बनाए जायेंगे. मॉडल बूथ पर समुचित प्रकाश व्यवस्था, पेयजल व्यवस्था, कॉरपेट आदि की सुविधा रहेगी. इसी प्रकार महिला शक्ति को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से निर्वाचन आयोग के निर्देश पर 46 सखी मतदान केंद्र बनाये जायेंगे. इन मतदान केंद्रों पर महिला चुनाव कर्मी ही प्रतिनियुक्ति होंगे. इनमें से डालटनगंज विधानसभा क्षेत्र में 37 बूथ, पांकी में दो बूथ, विश्रामपुर विस क्षेत्र में दो बूथ, हुसैनाबाद में चार और छतरपुर में एक बूथ होगा.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंः ट्वीटर इंडिया करेगा ‘हेमंत की चौपाल’ कार्यक्रम का आयोजन

सख्ती से होगा आचार संहित का पालन

प्रेस कांफ्रेंस में उपायुक्त और पलामू के पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने संयुक्त रूप से बताया कि चुनावों की घोषणा के तुरंत बाद से आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गयी है. इसकी सख्ती से मनवाया जायेगा. सभी सरकारी या गैर-सरकारी भवनों या दीवारों पर लगे सभी राजनीतिक पोस्टर बैनरों को हटाने का काम शुरू कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंः 18 करोड़ का स्लॉटर हाउस पड़ा है बंद, अब मृत मवेशियों का शरीर होगा डिस्पोज

हाइटेक होगा नियंत्रण कक्ष 

उपायुक्त डॉ. अग्रहरि ने बताया कि इस बार के मतदान में ईवीएम में उम्मीदवारों के सामने उनके फोटो भी होंगे. उन्होंने जानकारी दी कि इस बार के चुनाव में करीब 41 हजार नये मतदाता जुड़े हैं. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सभी सुविधाओं और उपकरणों से लैस संयुक्त नियंत्रण कक्ष ने कार्य प्रारंभ कर दिया है. यह सर्किट हाऊस के बगल में है. शांतिपूर्ण मतदान हेतु अपराधियों एवं शरारती तत्वों पर नकेल कसने का काम शुरू हो गया है.

इसे भी पढ़ेंः टीडीएस का ब्योरा नहीं देने की वजह से 22,854 राज्य कर्मियों को नहीं मिल पाया है फरवरी माह का वेतन

1485 फरारी अभियुक्तों के खिलाफ कार्रवाई शुरू

करीब 1,485 फरारी अभियुक्तों के खिलाफ कार्रवाई शुरू है. इनमें से 868 ने न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया है या उन्हें गिरफ्तार किया जा चुका है. कुल 4,350 व्यक्तियों के विरूद्ध धारा 107 के अंतर्गत कार्रवाई की गयी है. उपायुक्त ने बताया कि चुनाव संबंधी किसी भी जानकारी हेतु टॉलफ्री नंबर 1950 का लोग उपयोग कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं. यह सुविधा पिछले कई दिनों से जारी है और इसके माध्यम से 264 शिकायतों का निष्पादन किया जा चुका है. यह सुविधा सुबह 9 बजे से रात्रि 9 बजे तक उपलब्ध है. प्रेस कांफ्रेंस में डीडीसी बिंदू माध्व सिंह, सहायक निर्वाचन पदाधिकारी शैलेश कुमार सिंह और जिला जनसंपर्क पदाधिकारी सुधीर कुमार उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः कश्मीरः सरकारी विज्ञापन बंद करने के विरोध में अखबारों ने पहला पन्ना छोड़ा खाली

Related Articles

Back to top button