JharkhandRanchi

राज्य के 216 नर्सिंग होम और अस्पताल ने नहीं ली प्रदूषण बोर्ड से संचालन की मंजूरी, भेजा गया नोटिस

विज्ञापन

Ranchi: झारखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने राज्य के 216 अस्पताल और नर्सिंग होम को नोटिस भेजा है. अस्पताल और नर्सिंग होम ने पर्यावरण संबंधित नियम का पालन नहीं किया है. साथ ही इन पर मेडिकल वेस्ट निपटान के नियम का भी पालन नहीं करने का आरोप है. नर्सिंग होम के संचालन के लिए प्रदूषण बोर्ड से अनुमति लेनी होती है जो नहीं लिया गया है. बोर्ड ने सभी अस्पताल और नर्सिंग होम से 15 जुलाई तक जवाब मांगा है. साथ ही यह भी पूछा गया कि उन पर कानूनी कार्रवाई क्यों नहीं की जाये.

इसे भी पढ़ें – लातेहार में कोरोना ब्लास्ट, 11 नये संक्रमितों में 10 सीआरपीएफ जवान

advt

15 जुलाई तक सभी से मांगा जवाब

नोटिस में कहा गया है कि पर्यावरण नियमावली के तहत क्यों न कानूनी कार्रवाई की जाये और 1200 रुपये प्रतिदिन का जुर्माना लगाया जाये. बोर्ड ने नर्सिंग होम व अस्पताल संचालकों से कहा है कि वे 15 जुलाई तक जवाब दें. इसके बाद बोर्ड अपनी तरफ से कार्रवाई शुरू करेगा.

इसे भी पढ़ें – Dhanbad : कोविड अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव 23 पत्रकार बैठे अनशन पर

रांची समेत कई जिलों के नर्सिंग होम व अस्पताल शामिल

बोर्ड की ओर से भेजे गये नोटिस में रांची समेत कई जिलों के नर्सिंग होम और अस्पताल शामिल हैं. कुल 216 नर्सिंग होम व अस्पताल को नोटिस किया गया है, जिनमें बोकारो, हजारीबाग, जमशेदपुर, धनबाद, सरायकेला-खरसावां, दुमका, के नर्सिंग होम शामिल हैं.

adv

इसे भी पढ़ें – Ramgarh में कोरोना का बढ़ा खतरा, 16 जुलाई तक रेडीमेड गारमेंट्स, फुटवियर, ज्वेलरी और इलेक्ट्रॉनिक सामान की दुकानें रहेंगी बंद

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close