JharkhandRanchi

2 स्पेशल ट्रेनों से झारखंड लौटे 2131 प्रवासी मजदूर और मरीज, 91 बसों से भेजा गया गृह जिला

Ranchi :  लॉकडाउन के कारण वेल्लोर में इलाजरत फंसे कई झारखंडी मरीज और बेंगलुरु में फंसे प्रवासी मजदूर रविवार को दो स्पेशल ट्रेन से हटिया पहुंचे. स्टेशन पहुंचने वाले लोगों की संख्या करीब 2131 है. इन मजदूरों और इलाजरत मरीजों को उनके गृह जिला भेजने के लिए रांची जिला प्रशासन ने कुल 91 बसों की व्यवस्था की थी.

राज्य लौटे इन लोगों के लिए जिला प्रशासन रांची की ओर से स्टेशन पर समुचित व्यवस्था की गयी थी. स्टेशन परिसर पर एंबुलेंस का इंतजाम किया गया था, ताकि मरीजों को किसी तरह की परेशानी ना हो. वैसे मरीज जो आसानी से चल नहीं सकते, उनके लिए व्हील चेयर की भी व्यवस्था की गयी थी.

इसे भी पढ़ें – आखिर कैसे पढ़ें बच्चे, शिक्षा मंत्री ने कहा था 6 मई तक दे देंगे किताब, मगर विभाग के अधिकारी सुस्त

advt

निजी वाहनों के लिए भी प्रशासन ने की थी पास की व्यवस्था

वहीं जिला प्रशासन द्वारा इलाजरत मरीजों को लेने जाने के लिए के  निजी वाहनों की भी पास की व्यवस्था प्रशासन ने की थी. इससे पहले वापस राज्य लौटे प्रवासी मजदूर और मरीजों की स्टेशन पर ही स्क्रीनिंग की गयी.

इसके बाद उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराते हुए संबंधित जिलों के बसों में बैठाकर उनके घर भेजा गया. मजदूरों को घर भेजने के लिए 91 बसों का इंतजाम किया गया था.

हर जिले के लिए अलग-अलग बसों की व्यवस्था

वापस लौटे प्रवासी मजदूरों को अपने घर भेजने के लिए रांची जिला प्रशासन की ओर से अलग-अलग कुल 91 बसों की व्यवस्था की गयी थी.

लातेहार जिला के लिए 11, पलामू के लिए 8, गढ़वा, लोहरदगा, गुमला और खूंटी के लिए 1-1,  सरायकेला और पश्चिम सिंहभूम के लिए 2-2,  पूर्वी सिंहभूम के लिए 3,  बोकारो के लिए 8,  धनबाद के लिए 11,  रामगढ़ के लिए 2,  हजारीबाग के लिए 7,  चतरा के लिए 2,  कोडरमा के लिए 4, गिरिडीह के लिए 10,  देवघर के लिए 2,  दुमका के लिए 4,  जामताड़ा के लिए 1,  गोड्डा के लिए 2,  पाकुड़ और साहिबगंज के लिए 1-1 और रांची के लिए 6 बसों का इंतजाम किया गया था.

adv

इसे भी पढ़ें – एयर इंडिया में #Corona: 5 पायलटों की रिपोर्ट पॉजिटिव, कार्गो विमान से गये थे चीन

प्रवासी मजदूरों और मरीजों की संख्या सबसे अधिक धनबाद से

प्रवासी मजदूर/इलाजरत मरीजों की कुल संख्या 2131 थी. उसमें सबसे अधिक धनबाद से थे. वेल्लोर और बेंगलुरु से हटिया स्टेशन पहुंचे 2131 प्रवासी मजदूरों और इलाजरत मरीजों को बसों से उनके जिलों के लिए भेजा गया.

वेल्लूर और बेंगलुरु से लातेहार के लिए 265, पलामू के लिए 181, गढ़वा के लिए 28, लोहरदगा के लिए 4, गुमला के लिए 5, खूंटी के लिए 8, सरायकेला खरसावां के लिए 37, पश्चिमी सिंहभूम के लिए 50, पूर्वी सिंहभूम के लिए 68, बोकारो के लिए 196, धनबाद के लिए 269, रामगढ़ के लिए 38, हजारीबाग के लिए 173, चतरा के लिए 32, कोडरमा के लिए 102, गिरिडीह के लिए 285, देवघर के लिए 53, दुमका के लिए 84, जामताड़ा के लिए 28, गोड्डा के लिए 51, पाकुड़ के लिए 9, साहिबगंज के लिए 13 और रांची के लिए 152 लोगों को बस उनके संबंधित गृह ज़िला भेजा गया.

इसे भी पढ़ें –अमित शाह कहते हैं: ममता बनर्जी प्रेस कांफ्रेंस नहीं करती, पर पीएम तो छह साल से यही कर रहे हैं

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button