Corona_UpdatesNational

#20lakhcrores: कांग्रेस ने पीएम के पैकेज को बताया ‘हेडलाइन’, गहलोत बोले- दुरुस्त, बघेल ने पूछा- अबतक किया ही क्या

New Delhi: पीएम मोदी ने कोरोना संकट से उबरने के लिए आर्थिक पैकेज की घोषणा की है. मंगलवार को उन्होंने कुल 20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान किया. जिसे लेकर अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं.

Jharkhand Rai

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से मंगलवार को की गई 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा के बाद कहा कि मोदी ने मीडिया को सिर्फ ‘हेडलाइन’ दी, जिसमें प्रवासी श्रमिकों के लिए कोई हेल्पलाइन नहीं है. वही भाजपा ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा समग्र राहत पैकेज बताया.

इसे भी पढ़ेंःबिहार में तेजी से पांव पसार रहा कोरोना, 118 नये केस, संक्रमितों की संख्या हुई 879

कांग्रेस और माकपा ने कहा कि भारत प्रवासी मजदूरों पर प्रवासियों की पीड़ा पर प्रधानमंत्री की चुप्पी से निराश है क्योंकि वह इस मुद्दे का निराकरण नहीं कर पाए. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने देशहित में निर्णय लिए .

Samford

पीएम ने मीडिया को सिर्फ हेडलाइन

कांग्रेस ने कहा कि मोदी ने मीडिया को सिर्फ ‘हेडलाइन’ दी, इसमें प्रवासी श्रमिकों के दुख-दर्द के लिए कोई हेल्पलाइन नहीं है.

कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कहा, ‘प्रधानमंत्री जी ने हेडलाइन दी है, लेकिन कोई हेल्पलाइन नहीं दी. उन्होंने प्रवासी मजदूरों को उनके घर सुरक्षित भेजने और रास्तों में मजदूरों की मौत की घटनाओं पर कुछ भी नहीं कहा. इससे बहुत निराशा हुई है.’

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस पैकेज पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया, ‘अपने घर जा रहे प्रवासी कामगारों की दिल दहला देने वाली मानवीय त्रासदी को करुणा से देखने तथा मजदूरों की सुरक्षित वापसी की जरूरत है. लाखों प्रवासी श्रमिकों के प्रति आपमें संवेदनशीलता की कमी और उनकी तकलीफों को दूर करने में आपकी नाकामी से भारत बहुत ज्यादा निराश हुआ है.’

इसे भी पढ़ेंःगुजरात HC ने मंत्री चूड़ास्पा का निर्वाचन किया खारिज, वर्ष 2017 चुनाव में वोटों की गिनती में भ्रष्टाचार कर जीते थे

देर आये दुरुस्त आये- गहलोत

कांग्रेस के नेताओं की ही आर्थिक पैकेज पर मिलीजुली प्रतिक्रिया मिल रही है. पीएम नरेंद्र मोदी के ऐलान के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आर्थिक पैकेज पर कहा कि देर से आए दुरूस्त आए. आर्थिक पैकेज की जरूरत काफी दिनों से थी. जबकि, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि फंड का आवंटन होने के बाद ही मोदी जी के बूस्टर पैकेज की असलियत पता चलेगी. भारत सरकार से सिर्फ निर्देश ही प्राप्त होते रहे हैं. किट के अलावा केंद्र सरकार ने और कुछ नहीं दिया है.

हालांकि इससे पहले, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने प्रधानमंत्री की घोषणा का स्वागत किया, लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि वह अभी इस पैकेज के विवरण की प्रतीक्षा कर रहे हैं.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘प्रधानमंत्री की ओर से की गई 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा का स्वागत है और हम ब्योरे की प्रतीक्षा करेंगे. इससे अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने और कर्मचारियों के वेतन देने की तत्काल जरूरत को लेकर सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उपक्रमों में विश्वास पैदा करने में मदद मिलेगी.’

भाजपा ने किया स्वागत

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह केवल वित्तीय पैकेज नहीं, बल्कि सुधार को गति देने वाला और सोच बदलने वाला कदम है.

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने ट्वीट किया, ‘कोविड-19 के समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगे बढ़कर देश का नेतृत्व कर रहे हैं . 21वीं सदी भारत की होगी और प्रधानमंत्री ने आज इस पर अमल की आधारशिला रखी है . ‘आत्मनिर्भर भारत’ इस नए बदलाव की दिशा में देश को आगे बढ़ाने के लिए हमारा मंत्र है.’

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि प्रधानमंत्री की घोषणा से देश निराशा के माहौल से बाहर निकलेगा और उनके आत्मनिर्भरता के मंत्र से देश में नयी ऊर्जा का संचार होगा.

माकपा नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि प्रधानमंत्री प्रवासियों के दुख-दर्द के ज्वलंत मुददे निराकरण करने में विफल रहे. बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार रात आठ बजे राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में इस पैकेज की घोषणा की.

इसे भी पढ़ेंःरांची, धनबाद और टाटानगर स्टेशन से स्पेशल ट्रेनों का होगा प्रस्थान और आगमन, पैसेंजर्स को तीन घंटे पहले आना होगा स्टेशन

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: