न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

2019 : रोजगार मुद्दा होगा कांग्रेस के लिए, रघुराम राजन निभा रहे अहम भूमिका

कांग्रेस पार्टी  मोदी की भाजपा को 2019 के लोकसभा चुनाव में मात देने के लिए अपने तरकश में कई अस्त्र-शस्त्र का समावेश कर रही है.

293

 NewDelhi : कांग्रेस पार्टी  मोदी की भाजपा को 2019 के लोकसभा चुनाव में मात देने के लिए अपने तरकश में कई अस्त्र-शस्त्र का समावेश कर रही है. खबर है कि कांग्रेस इस बार रोजगार को अहम  मुद्दा बनाने जा रही है.  इसमें रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन अहम भूमिका निभा रहे हैं. मोदी सरकार के पांच वर्षों के कामकाज की सबसे बड़ी विफलता के रूप में रोजगार के मुद्दे को पेश करते हुए पार्टी अपने घोषणा पत्र में विस्तार से रोडमैप पेश करने जा रही है कि रोजगार कैसे और किस तरह पैदा किये जायेंगे? इसके लिए पार्टी विजन डॉक्युमेंट बना रही है, जिसमें रघुराम राजन की मदद ली जायेगी.  बताया जाता है कि राजन ने एक डीटेल रिपोर्ट इस संबंध में बनाई है, जिसका उपयोग पार्टी करेगी.   हालांकि रघुराम राजन पार्टी में शामिल होंगे या कोई भूमिका होगी कि नहीं, अभी इस बारे में कांग्रेस चुप़्पी साधे हुए है.

बता दें कि पार्टी के एक सीनियर नेता ने स्वीकार किया कि राजन ने रोजगार के बारे में एक डीटेल रिपोर्ट दी है जिसे कांग्रेस के घोषणा पत्र में जगह दी जा सकती है.  बता दें कि रघुराम राजन की विवादित स्थिति में रिजर्व बैंक छोड़ा था.  वह पूर्व में मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों की कई बार सार्वजनिक आलोचना कर चुके हैं.  वह मोदी सरकार के दौरान 2016 में हुए नोटबंदी के भी कटु आलोचक रहे हैं;  अब रोजगार के मुद्दे पर कांग्रेस को अपनी रिपोर्ट देने के बाद पूर्व गवर्नर और मशहूर अर्थशास्त्री को लेकर सियासी अटकलें तेज हो गयी हैं.

रोजगार को किस तरह  पैदा होंगे,  इस बारे में साफ-साफ रोडमैप होगा 

Related Posts

#HomeMinistry में आंतरिक सुरक्षा पर मंथन, अमित शाह, एनएसए डोभाल, कैबिनेट सेक्रेटरी राजीव गौबा ने जम्मू कश्मीर पर चर्चा की

अमित शाह को बैठक के दौरान जम्मू कश्मीर में सुरक्षा हालातों की विस्तृत जानकारी दी गयी.

कांग्रेस के सीनियर नेता और राहुल गांधी के करीबी सैम पित्रोदा के अनुसार रोजगार निश्चित तौर पर सबसे बड़ा मुद्दा रहेगा और पार्टी इसके लिए हर सुझाव को शामिल कर रही है.  उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मुद्दे पर देश के अलग-अलग हिस्से में टाउन हॉल प्रोग्राम करेंगे जो पार्टी के कैंपेन का अहम हिस्सा होगा.  ऐसे करीब एक दर्जन कार्यक्रम तैयार किये गये हैं.  उन्होंने कहा कि कांग्रेस भाजपा की तरह दो करोड़ रोजगार देने जैसी कोरी घोषणा नहीं करेगी बल्कि वह रोजगार को किस तरह और कैसे पैदा करेगी, इस बारे में साफ-साफ रोडमैप होगा.  सूत्रों के अनुसार कांग्रेस के घोषणा पत्र में खासकर असंगठित क्षेत्र में रोजगार को सबसे अधिक हाइलाइट किया जायेग. 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष ने  मेनिफेस्टो कमेटी बनाई है. इस कमेटी में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को अध्यक्ष बनाया है.  इसमें सैम पित्रोदा और शशि थरूर जैसे एक्सपर्ट भी शामिल हैं.

कांग्रेस मेनिफेस्टो को लेकर लोगों से फीडबैक लेना शुरू कर दिया है. पार्टी का दावा है कि उसे बहुत सारे फीडबैक मिल रहे हैं. इस बार कांग्रेस का सारा फोकस रोजगार और किसानों पर होगा.  बताया जाता है कि कांग्रेस ने देश के 160 शहरों में लोगों के बीच जाकर संवाद करने की योजना बनाई है. सूत्रों के अनुसार पार्टी की ओर से अब तक 120 शहरों में फीडबैक लेने का काम पूरा किया जा चुका है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: