न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

2018-19 का बजट न्यू झारखण्ड को समर्पित होगा : रघुवर दास

25

NEWS WING

Saraikela, 11 December : 2018-19 का बजट न्यू झारखण्ड को समर्पित बजट होगा. हम ऐसा झारखण्ड बनाएंगे जहां कोई बेघर, बेरोजगार और बेईलाज न रहे. पहले बजट बंद कमरों में बनाता था. हमारी सरकार ने इस सोच को बदलते हुए आम लोगों के बीच जाकर उनके सुझावों के अनुरुप बजट बनाने का निर्णय लिया. बजट देश और राज्य के विकास को  नई दिशा देता है. सरकार एक सकारात्मक सोच के साथ लगातार काम कर रही है. सरकार जनता को अपने हर कामों में भागीदार बनाना चाहती है. बजट में आम जनों की भागीदारी हमारी सकारात्मक सोच को दर्शाती है. इन बातों को मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बजट पूर्व संगोष्ठी के दौरान जनता के सामने सरायकेला-खरसांवा में रखी. उन्होंने कहा कि अपने प्रमण्डल स्तरीय बजट पूर्व संगोष्ठी के माध्यम से उनके पास लोगों के बहुमूल्य सुझाव प्राप्त हुए. जिनमें से कई सुझावों का बजट में शामिल किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : संथाल के लिए जहर है कि प्यार है तेरा चुम्मा, बीजेपी ने पूछा जेएमएम से

36 हजार नए शिक्षक झारखंड में  

मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा कि शिक्षा से ही राज्य की गरीबी दूर होगी और झारखण्ड को शिक्षित बनाने के लिये लगातार प्रयास किये जा रहे हैं. 18 हजार शिक्षकों की नियुक्ति की जा चुकी है और करीब 18 हजार नियुक्तियां होने वाली हैं. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने राज्य के 38904 में से 31707 स्कूलों में बेंच डेस्क उपलब्ध कराये हैं. कोल्हान प्रमण्डल में 5821 स्कूल हैं जिनमें से 4972 स्कूलों में बेंच डेस्क उपलब्ध कराया गया है. साथ ही 4431 स्कूलों में बिजली पहुंचायी गयी है. पिछले 14 सालों से राज्य में स्थानीय नीति के नाम पर सिर्फ राजनीति होती रही. हमारी सरकार ने स्थानीय नीति परिभाषित करने का काम किया है. इसका नतीजा हुआ कि राज्य में करीब एक लाख नियुक्तियां हुईं, जिनमें 95 प्रतिशत झारखण्ड के बच्चे रहे.

इसे भी पढ़ें : केस दर्ज करने से बचती है रांची के कई थानों की पुलिस, पैरवी के बाद दर्ज होता है मामला

सीएम चाहते हैं कि बजट दूरगामी हो : सीएस

इस अवसर पर मुख्य सचिव श्रीमती राजबाला वर्मा ने कहा कि बजट निर्माण से विकास का मार्ग प्रशस्त होता है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा है कि बजट का प्रभाव दूरगामी हो. इसलिए उन्होंने बजट में आम लेागों की राय शामिल की है. कहा- बजट का एकमात्र उद्देश्य है स्थायी बदलाव लाना. विकास दर वृद्धि में आज हम दूसरे नम्बर पर हैं पर हमारा यह प्रयास होना चाहिए कि हम पहले पायदान पर रहे. उन्होंने कहा कि प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि बजट के माध्यम से होनी चाहिये. हम ऐसा बजट तैयार करें जो गरीबी पर प्रभावी चोट कर सके, स्वरोजगार के अवसर उत्पन्न कर सके. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की सोच है कि हम झारखण्ड को देश ही नहीं अपितु विदेशों के विकसित राज्यों के बराबर लाकर खड़ा करें.

ये थे मौजूद

कार्यक्रम को विकास आयुक्त अमित खरे, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य सुधीर तिपाठी, प्रधान सचिव अरुण कुमार सिंह, कृषि सचिव पूजा सिंघल, सचिव आराधना पटनायक, ग्रामीण विकास सचिव अविनाश कुमार, उद्योग एवं खान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल, प्रबंध निदेशक उर्जा राहुल पुरवार आदि ने भी संबोधित किया.  कार्यक्रम में  विधायक घाटशिला लक्ष्मण टुडू, विधायक पोटका मेनका सरदार, कोल्हान प्रमण्डल के आयुक्त, कोल्हान प्रमण्डल जिलों के सभी उपायुक्त, कोल्हान प्रमंडल के आरक्षी महानिरीक्षक, आरक्षी उप महानिरीक्षक, पुलिस अधीक्षक एवं उप विकास आयुक्त, जनप्रतिनिधि और प्रबुद्धजन उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : दारू-दारू हुई झारखंड की राजनीति- जेएमएम विधायकों को खुलवानी है अपने घर में शराब दुकान तो लिस्ट बना कर दें: बीजेपी, 12 दिसंबर को बियर लेकर जाऊंगा विधानसभा, सीएम को करूंगा गिफ्टः जेएमएम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: