Uncategorized

2017 में भी घाटे से उबर नहीं पाया बोकारो स्टील, सीआरएम-3 से शुरू नहीं हो सका उत्पादन

Bokaro :  लंबे समय से करोड़ों के घाटे में चल रहे बोकारो स्टील प्लांट के लिये 2017 भी अच्छा नहीं रहा. हालांकि वर्ष 2017 के जाते-जाते बोकारो स्टील प्लांट ने काफी हद तक अपने घाटे को कम करने की पुरजोर कोशिश की है, ताकि वर्ष 2018 में प्लांट को सभी प्रकार के घाटों से उबारा जा सके. बोकारो स्टील के सीईओ पीके सिंह सीआरएम से उत्पादन को लेकर पूरी कोशिश कर रहे हैं. हर तरह से मॉनिटर भी कर रहे हैं. जिससे अभी हो रहे 4.5 एमटी उत्पादन की क्वालिटी ठीक हो जाएगी. और बोकारो बाजार के अनुरूप स्टील दे सकेगा.

इसे भी पढ़ें- नाम बड़े और दर्शन छोटेः केंद्र के 4012 करोड़ में से राज्य ने खर्च किए सिर्फ 134 करोड़ 

इसे भी पढ़ें- रांची के डेढ़ लाख भवनों में केवल 10 हजार में लगा रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

 

फिलहाल आंशिक रूप से हो रहा उत्पादन

सीईओ बताते हैं कि बोकारो स्टील प्लांट की कोल्ड रोलिंग मिल-3 से अगर इस वर्ष उसके क्षमता के अनुसार अगर उत्पादन करे, तो प्लांट को घाटे से निकाला जा सकेगा. उम्मीद है कि फरवरी 2018 में सीआरएम-3 की गैल्वेनाइजिंग लाइन कमिशनिंग की जाएगी. जिसके बाद सीआरएम-3 में पूर्ण रूप से उत्पादन शुरू हो जायेगा. वित्तीय वर्ष 2017-18 में शुरू, सीआरएम-3 में फिलहाल आंशिक रूप से उत्पादन हो रहा है. इस वर्ष आधुनिकीकरण व नवीनीकरण के काम को समय पर पूरा करने पर जोर दिया गया. लेकिन कई वर्षों से चल रहे आधुनिकीकरण भी पूरा नहीं हो सका है. पूरी तरह से आधुनिकीकरण करने के बाद बीएसएल का उत्पादन बाजार में बिक सकेगा. इस वर्ष घाटे के कारण बोकारो स्टील के मजदूरों को बोनस भी अपेक्षा से काफी काम मिला था. लेकिन वर्ष 2018 में सब ठीक रहा तो बोकारो स्टील घाटे से उबर सकता है.

इसे भी पढ़ें- रांची में जोर-शोर से चल रहा स्‍वच्‍छता जागरूकता अभियान, जिला प्रशासन भवन की गंदगी देखने वाला कोई नहीं

इसे भी पढ़ें- न्यू क्लियस मॉल के सीएमडी विष्णु अग्रवाल ने रांची नगर निगम को दिया 350 करोड़ मानहानि का नोटिस

इसे भी पढ़ें- हाल वार्ड चार का : पांच साल के कार्यकाल में जनता त्रस्त, लोगों ने कहा, काम कराने के लिए पार्षद लेती है पैसे

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button