HazaribaghJharkhand

हजारीबाग रेलवे स्टेशन में संवेदकों के अधीन कार्यरत 200 मजदूरों को नहीं मिल रहा उनका हक

रेलवे स्टेशन में मजदूरों से मिले विधायक, जाना हाल

Hazaribag: हजारीबाग रेलवे स्टेशन में एफसीआई का रैक लोड-अनलोड करने वाले मजदूरों को संवेदक के द्वारा भुगतान नहीं करने को लेकर मजदूरों में गुस्सा देखने को मिल रहा है. मजदूर आंदोलन के मूड में दिखने लगे हैं. मामले की जानकारी विधायक मनीष जायसवाल को भी दी गयी.

मामला तूल न पकड़े इसको लेकर शुक्रवार को हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल कूद अवस्थित रेलवे स्टेशन पहुंचे, जहां मजदूरों की समस्या को जाना और समझा. स्टेशन प्रबंधक मो. एस.रिज़वी से मिलकर उन्हें इस बातों की जानकारी भी दी.

इसे भी पढ़ें :सुरक्षाबलों ने पुलवामा में 5 आतंकियों को मार गिराया, घायल जवान ने अस्पताल में तोड़ा दम

ram janam hospital
Catalyst IAS

यहां कार्यरत संबंधित संवेदकों से मजदूरों को मिलने वाले हक़ उनका मिनिमम वैजेज, पीएफ, इएसआई और इन्श्योरेंस के लाभ के बाबत जानकारी मांगी तो यहां कार्यरत संवेदकों के सुपरवाइजरों के होश उड़ गए.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

ज्ञात हो कि हजारीबाग रेलवे स्टेशन में चार संवेदक के अधीन 21 विभिन्न ग्रुप में करीब 200 मजदूर रैक लोड- अनलोड का कार्य करते हैं.

मौके पर सदर विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि किसी भी मजदूर का हक होता है कि उन्हें मिनिमम वैजेस, पीएफ, इएसआई और इन्श्योरेंस के लाभ मिलें, लेकिन यहां खुलेआम संवेदक द्वारा नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें :कोविड-19 के सर्वाधिक मामलों वाले राज्यों में केंद्र ने भेजी टीम

विधायक जायसवाल ने कहा कि संवेदक अविलंब मजदूरों के हक और अधिकार को नियसंगत उन्हें दें, नहीं तो मजदूर उग्र होकर आंदोलन को मजबूर होंगे और एक सजग जनप्रतिनिधि के नाते उनके अधिकार की इस लड़ाई में हम ढाल बनकर उनके साथ खड़े रहेंगे.

मौके पर विशेष रूप से स्टेशन प्रबंधक मो. एस.रिज़वी, विधानसभा विधायक प्रतिनिधि दिनेश सिंह राठौर, विधानसभा सह- प्रतिनिधि विशाल वाल्मीकि, कटकमदाग विधायक प्रतिनिधि अजय साहू, कटकमसांडी विधायक प्रतिनिधि किशोरी राणा, नगर विधायक प्रतिनिधि आशीष सोनी, विधायक मीडिया प्रतिनिधि रंजन चौधरी सहित अन्य लोग मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ें :बंपर सरकारी नौकरी : Mazagon Dock में 1388 पोस्ट के लिए करें एप्लाई

Related Articles

Back to top button