JharkhandRanchiTOP SLIDER

20 सूत्री और निगरानी समिति का फॉर्मूला तय! राजद को सिर्फ चतरा से करना पड़ेगा संतोष

GYAN RANJAN

Ranchi : झारखंड के सत्ताधारी दलों के बीच बहुत जल्द 20 सूत्री और निगरानी समिति का बंटवारा हो जायेगा. इसको लेकर जिलावार खाका लगभग तैयार कर लिया गया है.  बहुत जल्द इसकी घोषणा कर दी जाएगी. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इन समितियों के लिए जेएमएम के हिस्से में 13 जिले, कांग्रेस के खाते में 10 जिले और राजद को एक जिला देने पर सहमति बन सकती है.

इसकी आधिकारिक घोषणा जल्द ही की जा सकती है. हालांकि कुछ जिलो को लेकर अब भी कांग्रेस और जेएमएम के बीच सहमति नहीं बनी है, जिसमें रांची, धनबाद और पाकुड़ प्रमुख है. मिली जानकारी के अनुसार कोल्हान प्रमंडल में कांग्रेस को खाली हाथ रहना पड़ेगा.

advt

इसे भी पढ़ें – कोडरमा : अवैध रूप से भंडारित किया जा रहा बालू जब्त, खनन विभाग और पुलिस ने की संयुक्त कार्रवाई

ये वो जिले हैं जिनका दलगत आधार पर बंटवारा हुआ है

JMM- चाईबासा, जमशेदपुर, सरायकेला, खरसावां, गुमला, लातेहार, दुमका, पाकुड़, जामताड़ा, साहेबगंज, खूंटी, धनबाद, गढ़वा, गिरिडीह

कांग्रेस- रांची, सिमडेगा, लोहरदगा, पलामू, रामगढ़, हजारीबाग, गोड्डा, देवघऱ, बोकारो, कोडरमा

राजद- चतरा

बता दें कि झारखण्ड सरकार में जल्द ही इन जिलों के लिए पदाधिकारियों का मनोनयन होना है. हालांकि अभी इसपर अंतिम मुहर लगना बाकी है. कांग्रेस इन समितियों के गठन के लिए सबसे ज्यादा सक्रिय है. प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर का कहना है कि बातचीत जारी है. जल्द ही सब कुछ साफ हो जाएगा.

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव ने बीते दिनों इसको लेकर एक समिति का भी गठन किया है, जो मुख्यमंत्री और जेएमएम नेताओं से इसपर बात कर रही है. इस समिति के सदस्य प्रदेश प्रवक्ता शमशेर आलम का कहना है कि बातचीत अंतिम दौर में है और इन समितियो के जरिये जेएमएम, कांग्रेस और राजद के नेताओं और कार्यकर्ताओं को सरकार से जुड़ने का मौका मिलेगा.

मालूम हो कि झारखंड कांग्रेस के प्रभारी आर पी एन सिंह ने भी पिछले सप्ताह कहा था कि जुलाई महीने के अंत तक 20 सूत्री और निगरानी समिति का गठन कर लिया जाएगा. झामुमो के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने भी जल्द इसपर निर्णय होने की बात कही थी.

इसे भी पढ़ें – कोचिंग संचालक पर छात्रा से छेड़खानी का आरोप, पीड़िता ने परिवार सहित घर पहुंचकर किया हंगामा

मुख्यमंत्री के साथ अंतिम राउंड की बैठक जल्द

कुछ जिलों को लेकर कांग्रेस जेएमएम के बीच बात अंतिम दौर में है. वहीं संभवित फॉर्मूले के अनुसार राजद को एक जिले से संतोष करना पड़ेगा. जल्द ही कांग्रेस जेएमएम के आला नेता मुख्यमंत्री के साथ अंतिम राउंड की वार्ता करेंगे, जिसके बाद बीस सूत्री व निगरानी समिति की घोषणा कर दी जाएगी.

इसे भी पढ़ें – मां ने 3 साल के बेटे की हत्या करने के बाद खुद भी जहर खाकर दी जान

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: