National

1984 सिख दंगा  : SC ने हाईकोर्ट का  फैसला  पलटा, 15 दोषियों को बरी किया

NewDelhi : SC ने 1984 के सिख विरोधी दंगों में त्रिलोकपुरी मामले में दोषी करार दिये गये 15 लोगों को बरी कर दिया. बता दें कि दिल्ली हाईकोर्ट ने नवंबर में इन लोगों के दोषी होने और निचली अदालत से मिली सजा को सही ठहराते हुए पांच साल की सजा बरकरार रखी थी.

सजायाफ्ता लोगों ने SC में इस फैसले को चुनौती दी थी. SC ने हाईकोर्ट और निचली अदालत के फैसले को पलट दिया.  SC ने फैसला सुनाते हुए कहा कि इन लोगों के खिलाफ दंगों में शामिल रहने के न तो सीधे सबूत मिले और ना ही गवाहों ने उनकी पहचान की.  लिहाज़ा इन्हें बरी किया जाये

इसे भी पढ़ेंः शारदा चिट फंड केस : SC ने कहा,  राजीव कुमार को गिरफ्तार करना है तो ठोस सबूत दें, इजाजत दे देंगे

95 शव बरामद हुए थे

पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके में 28 नवंबर 2018 को 1984 में हुए दंगों के सिलसिले में दायर 88 दोषियों की सजा मिली थी. निचली अदालत ने 1996 में पांच-पांच साल कैद की सजा सुनाई थी.  निचली अदालत के फैसले के आलोक में  दिल्ली हाईकोर्ट ने सभी दोषियो की सजा बरकरार रखी थी.  22 साल बाद दिल्ली हाईकोर्ट का बड़ा फैसला आया था.

इस मामले में 95 शव बरामद हुए थे लेकिन किसी भी दोषी पर हत्या की धाराओं में आरोप तय नहीं हुए थे.  इनके खिलाफ दो नवंबर 1984 को कर्फ्यू का उल्लंघन कर हिंसा करने का आरोप था. उस हिंसा में त्रिलोकपुरी में करीब 95 लोग मारे गये थे.  सौ घरों को जला दिया गया था. ट्रायल कोर्ट के फैसले के खिलाफ इन लोगों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी और फिर हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गयी थी.

इसे भी पढ़ेंःखतरनाक तूफान में बदल सकता है चक्रवात फेनी, अलर्ट पर एनडीआरएफ

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: