न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची, लातेहार और पलामू से चोरी की गयी 19 मोटरसाइकिलें बरामद, सरगना सहित तीन गिरफ्तार

167

Palamu: पलामू पुलिस ने अंतरजिला बाइक चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है. पलामू के अलावा लातेहार और राजधानी रांची से मोटरसाइकिलें चोरी कर और उसके फर्जी कागजात तैयार कर बेचने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने गैंग के सरगना सहित तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया है. साथ ही चोरी की 19 मोटरसाइकिलें बरामद की है. इनमें 5 स्पेलेंडर प्रो, 12 पैशन प्रो और दो अपाची मोटरसाइकिल शामिल हैं. पुलिस इसे बड़ी सफलता मान रही है.

इसे भी पढ़ेंःमोमेंटम झारखंड का हवाला देकर प्राइवेट यूनिवर्सिटी नहीं बना रही कैंपस

कहां से हुई गिरफ्तारी?

लातेहार एसपी प्रशांत आनन्द को गुप्त सूचना मिली थी कि पलामू, लातेहार, रांची के शहरी क्षेत्रों से मोटरसाइकिलें चोरी कर छिपादोहर के उग्रवाद प्रभावित इलाकों में रखी जा रही है. इस इलाके में एक गिरोह भी सक्रिय है. और गिरोह का सरगना ओपांग निवासी विपिन बिहारी सिंह है. उसके साथ हरातू के मिश्री सिंह एवं दिनेश सिंह एवं अन्य भी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड स्टेट स्पोर्ट्स प्रमोशन सोसाइटी में नहीं है सब कुछ ठीक-ठाक

छिपादोहर थाना प्रभारी के नेतृत्व में हुई कार्रवाई

सूचना पर छिपादोहर थाना प्रभारी फगुनी पासवान के नेतृत्व में टीम बनायी गयी. इसमें सहायक अवर निरीक्षक अरविंद कुमार सिंह और रामविनय कुमार के अलावा जवानों को शामिल किया गया. टीम के सदस्यों ने छापामारी अभियान चलाते हुए पहले गिरोह के सरगना के अलावे मिश्री सिंह और हंसराज टोला के सुकन सिंह को गिरफ्तार किया. उनसे पूछताछ के बाद उनकी निशानदेही पर छापामारी की गयी तो चोरी की 19 मोटरसाइकिलें बरामद हुई.

20 से 35 हजार में बेचते थे बाइक

चोरी के बाद सारी मोटरसाइकिलों को छिपोदोहर के उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में छिपाया जाता था. बाद में फर्जी रजिस्ट्रेशन, डुप्लीकेट कागजात बनाकर व ग्रामीणों को चकमा देकर 20 से 35 हजार रूपये में मोटरसाइकिलों को बेच दिया जाता था. रजिस्ट्रेशन कार्ड और गाड़ी का इंश्योरेंस व प्रदूषण पेपर बनाने में रांची के संदीप उरांव से मदद ली जाती थी. बरामद गाड़ियों के पीछे जितने भी नंबर लगे हैं, वे सब फर्जी हैं.

इसे भी पढ़ेंः18 साल बाद भी अधर में झारखंड-बिहार के बीच 2584 करोड़ की पेंशन…

गिरोह के बाकी सदस्यों की तलाश तेज

गिरोह में शामिल रांची के काठीटांड़ निवासी संदीप उरांव, बरवाडीह के होरीलांग निवासी मंटू सिंह, छिपादोहर के हरातू निवासी दिनेश कुमार सिंह, कुचिला निवासी सैयब अंसारी व बरखेता के गिरिजा तिवारी की पुलिस को तलाश है. इनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस उनके संभावित ठिकानों पर छापामारी कर रही है.

इसे भी पढ़ेंःRBI की मिनट्स ऑफ मीटिंग से खुलासाः बैंक ने नोटबंदी पर सरकारी दावे…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: