न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झाविमोः लोकसभा सम्मेलन को लेकर मोर्चा नेताओं ने कसी कमर, 17 को 20 हजार कार्यकता का होगा रांची में जुटान

1,263

Ranchi: महागठबंधन में सीटों के बंटबारे में चल रही खटपट के बीच झविमो कार्यकताओं जुटान हरमू मैदान में 17 फरवरी को करने जा रहा है. रांची लोकसभा सम्मेलन को सफल बनाने को लेकर सोमवार को केंद्रीय कार्यालय, रांची में बैठक हुई. इसमें पार्टी महासचिव बंधु तिर्की ने कहा कि 17 फरवरी का सम्मेलन ऐतिहासिक होगा. रांची लोकसभा के कोने-कोने से झाविमो कार्यकर्ता हरमू मैदान में पहुंचेंगे. उन्होंने कहा कि 2019 झाविमो का होने वाला है. कार्यकर्ता चुनाव के लिए कमर कस लें. झाविमो कार्यकर्ताओं की बदौलत 2019 में भाजपा को झारखंड से विदा कर देगा. झाविमो का पहला उद्देश्य झारखंड को भाजपा से बचाने का है. हमारे नेता बाबूलाल मरांडी इसके लिए निष्ठा के साथ लगे हुए हैं. केंद्रीय सचिव राजीव रंजन मिश्रा ने कहा कि कार्यकर्ता बाबूलाल मरांडी के विचारों को जन-जन तक पहुंचायें. बाबूलाल मरांडी ही इस राज्य को सही दिशा दे सकतें हैं. सभी कार्यकर्ता सम्मेलन को सफल बनाने के लिए लग जायें.

जुलूस के रूप में शामिल होंगे कार्यकर्ता 

बैठक में तय हुआ कि 17 फरवरी के कार्यक्रम में रांची लोकसभा के अंतर्गत आने वाले सभी 6 विधानसभा के 350 पंचायत एवं 53 वार्डों से 20 हजार सक्रिय कार्यकर्ता शामिल होंगे. जिन्हें झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी सहित दर्जनों केंद्रीय नेता सम्बोधित करेंगे. इसके निमित्त सभी पदाधिकारियों को जिम्मेवारी सौंपी गयी है. सभी प्रखंडों एवं प्रमंडल प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र से जुलूस के रूप में सम्मेलन में शामिल होने का निर्देश दिया गया है.

बैठक में ये लोग थे मौजूद

बैठक में मुख्य रूप से पार्टी के केंद्रीय महासचिव व पूर्व मंत्री बंधु तिर्की, केंद्रीय सचिव राजीव रंजन मिश्रा, ग्रामीण जिला अध्यक्ष प्रभुदयाल बड़ाईक, जितेंद्र वर्मा, आदिवासी मोर्चा के केंद्रीय उपाध्यक्ष संजय टोप्पो, बल्कु उरांव, सज्जाद अंसारी, शिव शर्मा, मुजीब कुरैशी, नजीबुल्लाह खान, सिवा कच्छप, मुन्ना बड़ाईक, राम मनोज साहू, शिव शंकर साहू, अजय कच्छप, बंधना ऊरांव, अजय कच्छप, सुरेश शर्मा, दयानंद राम, डॉ विनोद सिंह, तैमूर अंसारी, रूपचन्द केवट, निर्मल पाहन, नान्हे कच्छप, अमित सिंह, शिव चरण मुंडा, नीरज सिंह, पियूष आनंद, भीम शर्मा, अशोक श्रीवास्तव, कृष्णा मुंडा, तन्नू आलम, विनोद सांग सहित सैकड़ों प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः पाकुड़ के महेशपुर में अपराधियों ने पारा शिक्षक की गोली मार कर की हत्‍या

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: