न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#RU के 17 कॉलेजों को मिला एफिलिएशन, नये शैक्षणिक सत्र के लिए ले सकेंगे नामांकन

615

Ranchi : रांची विवि के एफिलिएशन व टीचिंग कमिटी की बैठक हुई. इस बैठक में रांची विवि के अंतर्गत आने वाले विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों और कॉलेजों को नये शैक्षणिक सत्र संचालित करने के लिए मान्यता प्रदान की गयी.

रांची विवि की टीचिंग कमिटी की ओर से कुल 17 कॉलेजों को स्नातक और स्नातकोत्तर कोर्स संचालित करने की मान्यता दी गयी.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

जिन कॉलेजों और संस्थानों को मान्यता दी गयी उसमें गोस्सनर कॉलेज, योगदा सत्संग महाविद्यालय, निर्मला कॉलेज, संजय गांधी मेमोरियल कॉलेज, यूकेएस कॉलेज डकरा, सिल्ली कॉलेज सिल्ली, एसके बागे कॉलेज कोलेबिरा, संत जेवियर कॉलेज सिमडेगा, संत पॉल कॉलेज रांची, बसिया कॉलेज बसिया, केओ कॉलेज रातू, डुमरी कॉलेज डुमरी, संतोष कॉलेज ऑफ टिचर ट्रेनिंग एजुकेशन, सीएन लॉ कॉलेज रांची, केजरीवाल इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड डेवलपमेंट स्टडीज और किंगपिंग कॉलेज ऑफ नर्सिंग के नाम शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें : #SaryuRoy ने कहा- सरकार किसी की भी बने, मेरा समर्थन नहीं, जनता के लिए काम-काज पर रखूंगा नजर

अलग-अलग कोर्स के लिए भी दी गयी मान्यता

किंगपिंग कॉलेज ऑफ नर्सिंग को एक वर्षीय बीएससी (बेसिक) नर्सिंग के लिए मान्यता प्रदान की गयी है. केजरीवाल इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड डेवलपमेंट स्टडीज को तीन वर्षीय बीबीए प्रोग्राम के लिए मान्यता दी गयी है.

बीबीए, बीसीए प्रोग्राम के लिए संत पॉल कॉलेज रांची को भी मान्यता मिली है. वहीं संतोष कॉलेज ऑफ टीचर ट्रेनिंग एजुकेशन को चार वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर्स एजुकेशन प्रोग्राम के लिए मान्यता मिली है.

Related Posts

इसे भी पढ़ें : #JHMADA का संक्रामक अस्पताल वित्तीय कारणों से हो गया बंद, कभी बिहार-बंगाल से भी आते थे मरीज

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

छोटानागपुर लॉ कॉलेज को दो वर्षीय एलएलएम कोर्स की मान्यता मिली है.

इसके अलावा अन्य कॉलेजों को विभिन्न क्षेत्रीय भाषाओं में स्नातक और स्नातकोत्तर कोर्स संचालित करने के लिए मान्यता प्रदान की गयी है. निर्मला कॉलेज को सामान्य स्नातक कोर्स के साथ-साथ स्नातकोत्तर कोर्स शुरू करने की मान्यता भी दी गयी है.

गौरतलब है कि इन 17 कॉलेजों को पूर्व में संचालित किये गये कोर्स की जांच के बाद मान्यता दी गयी है. रांची विवि के एफलिशिएशन व टीचिंग कमिटी की ओर से सभी कॉलेजों में इंस्पेक्शन कराया गया था.

इसे भी पढ़ें : #Survey: देश में 2.20 करोड़ लोग पीते हैं गांजा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like