JharkhandRanchi

#Survey: देश में 2.20 करोड़ लोग पीते हैं गांजा

Pravin Kumar

Ranchi : देश में 2 करोड़ 20 लाख लोग गांजा पीते हैं. यह आंकड़ा एक सर्वे में सामने आया है.

देश के सभी 37 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के 10 से 75 आयु वर्ग के लोगों के बीच सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के द्वारा नेशनल ड्रग डिपेंडेंस ट्रीटमेंट सेंटर व अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के द्वारा सर्वे किया गया.

advt

सर्वे रिपोर्ट के अनुसार, 14.6 प्रतिशत भारतीयों को शराब की लत है. यानी ऐसे लोगों की संख्या 16 करोड़ बतायी गयी है. देश में 2.2 करोड़ लोग गांजा पीने वाले हैं. रिपोर्ट के अनुसार 1.3 करोड़ भारतीय चरस का सेवन करते हैं.

राष्ट्रीय स्तर पर सर्वे में अनुमान लगया गया है कि लगभग 8.5 लाख लोग इन्जेक्शन से नशीली दवाएं लेते हैं. वहीं 1.08% वृद्ध भारतीय बिना चिकित्सीय प्रिस्क्रिप्शन के नशीली दवाओं का उपयोग करते हैं.

इसे भी पढ़ें: एग्जिट पोल की माने तो ऐसी होगी अबकी बार झारखंड की सरकार!

1.14 प्रतिशत लोग करते हैं हेरोइन का सेवन

राष्ट्रीय स्तर पर सबसे ज्यादा सेवन किया जाने वाला ओपियड हेरोइन है. वर्तमान में 1.14 प्रतिशत लोग हेरोइन का सेवन करते हैं. नशे के लिए ओषधीय ओपियड का भी प्रयोग किया जाता है.

adv

वर्तमान में ओषधीय ओपियड का सेवन करने वालों प्रतिशत देश में 0.96 है. कोकीन उपयोग करने वाले का प्रतिशत 0.10, एम्फेटामाइस टाइप के स्टिमुलेंट्स 0.18 प्रतिशत है.  देश में हेलूसिनोजेन्स सेवन नशा के लिए करने वालों की संख्या काफी कम है.

इसे भी पढ़ें: लातेहार-चतरा में कोयला कारोबार में लेवी के वर्चस्व लिए हो रही गोलीबारी

सर्वे में देश के कितने जिलों को किया गया शामिल

सर्वे में 37 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के 10 से 75 आयु वर्ग के लोगों को शामिल किया गया था. 186 जिलों में कुल 200,111 घरों का दौरा कर सर्वे डाटा तैयार किया गया था.

इस सर्वे को 473,569 व्यक्तियों से बातचीत कर के तैयार किया गया. 135 जिलों में अवैध नशीली दवाओं के आदी 72,642 व्यक्तियों के बीच बहु-उदेशीय दृष्टिकोण के साथ एक रेस्पोंडेंट ड्राइवेन सैंपलिंग सर्वे किया गया था.

इसे भी पढ़ें: #Picnic Spots पर हर साल होती हैं छोटी-बड़ी घटनाएं, पर प्रशासन नहीं करता पुख्ता इंतजाम

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button