Koderma

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती मनायी गयी 

झुमरीतिलैया में गूंजा नारा- तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा

Koderma: भारत के आजादी के महानायक, नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जन्म जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में आयोजित कर नेताजी सुभाष चंद्र बोस जन्म उत्सव समिति झुमरीतेलैया द्वारा आजाद हिंद फौज के संस्थापक को श्रद्धा सुमन अर्पित की गई.

जन्म जयंती कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी ने नेताजी के उदघोष तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा को याद करते हुए बताया कि नेता जी ने आजाद हिंद फौज का गठन कर तात्कालिक अंग्रेजी हुकूमत को भारत से उखाड़ फेंकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. आज के युवा उनसे सीख लें एवं राष्ट्र निर्माण में सहयोग करें. हावड़ा कालका ट्रेन का नाम परिवर्तित कर नेताजी एक्सप्रेस रख आज हम उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं.

जयंती कार्यक्रम के तहत झुमरीतिलैया पूर्णिमा टॉकीज से शोभा यात्रा को अनुमंडल पदाधिकारी कोडरमा मनीष कुमार ने हरी झंडी दिखाकर विदा किया जिसमें राष्ट्रध्वज लेकर युवा साथी आगे चल रहे थे जबकि जन्मोत्सव समिति के सभी पदाधिकारी एवं नगर के गणमान्य लोग नेताजी अमर रहे, भारत माता की जय, वंदे मातरम का जयघोष करते हुए चल रहे थे. झांकी में शामिल होकर सुभाष चौक पहुंच कर नेताजी के आदमकद प्रतिमा पर बारी-बारी से सभी माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया.

अध्यक्षता अशोक दास गुप्ता ने किया जबकि संचालन करते हुए समिति सचिव सह कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज सहाय पिंकू ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना के कारण इस वर्ष बच्चों को कार्यक्रम में शामिल नहीं किया जा सका. कार्यक्रम को नितेश चंद्रवंशी, वीरेंद्र सिंह, अनूप जोशी, दासरथी बनर्जी, प्रणव चटर्जी, अनूप सरकार (कलटू दा), ब्रह्मदेव प्रसाद, जूही दासगुप्ता, प्रकाश राम ने भी संबोधित किया.

नेताजी की जयंती पर सफल छात्रों को सम्मानित किया गया

जयनगर प्रखंड के ककरचोली पंचायत अंतर्गत ग्राम गम्हरबाद में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चित्र पर मुखिया अर्चना कुमारी ठाकुर विक्रम सिंह आदि ने फूल माला चढ़ाकर नेता जी की जयंती मनाया गया.

वहीं मुखिया अर्चना कुमारी ने ककरचोली पंचायत में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर मेडिकल में सफल छात्र ग्राम तरवन निवासी धीरज कुमार यादव पिता श्याम सुंदर यादव, ग्राम ककरचोली के लेखराज साव पिता बहादुर साव, वहीं सीआईएसफ में सफल छात्र अमित सिंह पिता रंजीत सिंह गम्हरबाद निवासी, रोबिन सिंह पिता भूदेव सिंह गोदखर निवासी को सम्मानित किया.

मुखिया अर्चना कुमारी ने कहा कि नेताजी के बताए मार्ग पर हम सबों को चलने की आवश्यकता है. मौके पर जयप्रकाश यादव, उमेश सिंह, अनिल सिंह, शांति देवी, उर्मिला देवी, गुड़िया देवी, रिंकू सिंह, प्रेम सिंह, दशरथ सिंह, प्रकाश सिंह सहित दर्जनों लोग मौजूद थे.

डोमचांच में मनायी गयी नेताजी की जयंती

डोमचांच नगर पंचायत स्थित श्री महेश एकेडमी में नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी की  125 वीं जयंती “पराक्रम दिवस” के रूप में मनायी गयी. कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ शिक्षक मोहन लाल पांडेय ने की और संचालन निदेशक सुनील कुमार सिन्हा ने किया.

इस अवसर पर नेता जी के चित्र पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम की शुरुआत एकेडमी की प्राचार्या रीना दाराद ने किया और उनके साथ उपस्थित छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों ने श्रद्धा सुमन अर्पित किया. अध्यक्षीय भाषण के माध्यम से मोहनलाल पांडेय ने बताया की पंजाब के जालियांवाला बाग कांड से बड़ा हत्याकांड अंग्रेज़ों के द्वारा पश्चिम बंगाल में किया गया था जिसमें 23 सौ से अधिक आजाद हिंद  फौजी की हत्या की गई.

शिक्षक मुकुल कुमार ने राष्ट्रभक्ति गीत प्रस्तुत कर उपस्थित सभी लोगों को देश के लिए समर्पित होने का आह्वान करते हुए धन्यवाद ज्ञापन किया. मौके पर संजय कुमार, प्रणव प्रखर, बब्लू कुमार शर्मा, करण सिंह, प्रीति मेहता, नैंसी कुमारी, रितिका कुमारी सहित वर्ग दशम के अनेक छात्र- छात्राएं उपस्थित हुए. वहीं जीएस पब्लिक स्कूल प्रांगण में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती मनाई गई. विद्यालय के अध्यक्ष प्रदीप सिंह, निदेशक नितेश सिंह, उप निदेशक नीरज सिंह ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस के तस्वीर पर माल्यार्पण एवं उन्हें पुष्प अर्पित किया. कार्यक्रम में ने नेता जी को याद करते हुए उन्हें पुष्प अर्पित किया.

कोडरमा यूथ एडवोकेट्स ने मनाया पराक्रम दिवस

23 जनवरी को कोडरमा यूथ एडवोकेट्स के द्वारा भारत के वीर सपूत और अनमोल रत्न, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125 वे जन्म दिवस को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया गया. कार्यक्रम में जिला अधिवक्ता संघ के अधिवक्ताओं ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जी के जीवनी पर प्रकाश डाला और बारी बारी से अपने वक्तव्य और विचारों को साझा किया.

अध्यक्ष जगदीश सलूजा ने कहा कि युवा अधिवक्ताओं के द्वारा इस प्रकार का आयोजन काफी सराहनीय और स्वागतयोग्य क़दम है. अब तक इस तरह का कार्यक्रम अधिवक्ता संघ में पहली बार किया गया है. इसके बाद संघ के गणमान्य अधिवक्ता भैया अनुप कुमार, जय प्रकाश नारायण, बख्तावर खान, शिवनन्दन शर्मा, सुरेश कुमार, आत्मानंद पांडेय, प्रशांत कुमार ने सभा को संबोधित किया.

कार्यक्रम को सफल बनाने में शंकर सिंह, श्रीमती रीना शर्मा, नवल किशोर, अजय कुमार, निखिल कुमार, हरी शंकर कुमार एवं अन्य अधिवक्ता मौजूद रहे. संचालन अधिवक्ता रवि शंकर बनर्जी व जय गोपाल शर्मा ने किया और कार्यक्रम के आयोजक ज्ञानरंजन ने कार्यक्रम को सफल बनाने एवं सहयोग करने वाले सभी अधिवक्ताओं का धन्यवाद ज्ञापन किया.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: