न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू प्रमंडल में नवंबर में 121 अपराधी गिरफ्तार, 18 नक्सली पकड़े गये : डीआइजी

2,543

Palamu : पलामू रेंज में पिछले एक महीने के दौरान 121 अपराधी पकड़े गये. वहीं 18 नक्सलियों को गिरफ्तार करने में पुलिस सफल रही. इस दौरान नक्सलियों के खिलाफ 125 अभियान चलाये गये, जिसमें 18 हथियार सहित कई अपात्तिजनक सामान बरामद किये गये. पलामू रेंज के डीआइजी विपुल शुक्ला ने पलामू, गढ़वा और लातेहार में नवंबर माह में पुलिस की उपलब्धियां गिनाते हुए अपने कार्यालय कक्ष में पत्रकारों को यह जानकारी दी.

भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किये गए

शुक्ला ने बताया कि नवंबर माह में पलामू जिले में 57 और गढ़वा जिले में 64 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं पलामू में 9 गढ़वा में एक और लातेहार में आठ अपराधियों की गिरफ्तारी हुई है. नवंबर माह में पलामू में 18, गढ़वा में 36 और लातेहार में 14 कुर्की का निष्पादन किया गया है. उन्होंनें बताया कि प्रमंडल में कुल 787 वारंटियों की गिरफ्तारी की गयी है. पलामू में 288, गढ़वा में 383 और लातेहार में 116 वारंटियों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं प्रमंडल में 125 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है. जिसमें पलामू में 60, गढ़वा में 43 और लातेहार में 22 नक्‍सली गिरफ्तार किये गए हैं. साथ ही भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी की गयी है.

मसुरिया में जल्‍द होगा पिकेट का निर्माण

डीआइजी ने बताया कि 1460 किलो ग्राम पोस्ता, 20 किलो ग्राम पोस्ता का छिलका भी बरामद किया गया है. इसके अलावा एक जिप, 36 मोटरसाकिल, एक टाटा मैजिक, 11 ट्रक भी जब्त किया गया है. डीआइजी शुक्ला ने बताया कि पलामू प्रमंडल में नक्सलियों के धर-पकड़ और आत्मसमर्पण के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. जिले के मनातू थाना क्षेत्र के मसुरिया में संचालित पिकेट के लिए भूमि उपलब्ध हो गया है. जल्द ही पिकेट भवन का निर्माण किया जायेगा.

बिचका में बनेगा ओपी

डीआइजी ने बताया कि गढ़वा जिला के रमकंडा और भंडरिया थाना के बीच घोर नक्सल प्रभावित बिचका में पुलिस कैंप की स्थापना की गयी थी, उसे उत्क्रमित कर ओपी बनाया जायेगा. यहां आइआरबी और सैट के जवानों की तैनाती की जा चुकी है.

माओवादी मृत्युजंय और नवीन की कुल 28 एकड़ भूमि होगी जब्त

उन्होंने बताया कि माओवादी नक्सली मृत्युजंय भुइयां की 13 एकड़ भूमि और नवीन यादव की करीब 15 एकड़ भूमि सहित अन्य संपत्तियों को जल्द ही जब्त करने की कार्रवाई की जायेगी. इसके अलावा कई अन्य बड़े नक्सलियों की संपत्ति जब्त करने का प्रस्ताव सरकार को भेजा गया है. आदेश मिलने के बाद अविलंब नक्सलियों की संपत्ति जब्त की जायेगी.

डीआइजी शुक्ला ने कहा कि पलामू प्रमंडल में लगभग माओवादी नक्सलियों को सफाया हो चुका है, लेकिन कुछ छोटे-मोटे नक्सली संगठन ग्रामीणों को भय और लोभ देकर उनके बच्चों को संगठन में शामिल कराने का काम कर रहे हैं. उन्होंने प्रमंडलवासियों से अपील की है कि वे अपने बच्चों को नक्सलियों से दूर रखें और शिक्षित कर समाज और राष्ट्र के नवनिर्माण में आगे बढ़ायें.

इसे भी पढ़ें : पलामू: हथियार समेत छह अपराधी गिरफ्तार, हत्याकांड का उद्भेदन-लूट की योजना विफल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: