JharkhandKhas-KhabarRanchi

झारखंड पुलिस मुख्यालय में हर महीने आ रही है 1200 ऑनलाइन शिकायतें

Ranchi: सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के जरिए झारखंड पुलिस लोगों की शिकायत दर्ज कर रही है. झारखंड पुलिस मुख्यालय में हर महीने करीब 1200 ऑनलाइन शिकायतें आ रही है. राज्य के अलग-अलग जिले के लोग हर दिन झारखंड पुलिस को ट्विटर, फेसबुक और ऑनलाइन माध्यमों शिकायत कर रहे हैं.

इन ऑनलाइन शिकायत पर पुलिस मुख्यालय के द्वारा संज्ञान लेकर संबंधित जिले के एसपी को त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया जा रहा है. कोरोना काल में लोगों के द्वारा ऑनलाइन शिकायत करने की संख्या में इजाफा हुआ है. हर दिन करीब 30 ऑनलाइन शिकायत आ रही है.

इसे भी पढ़ें- क्या आपको सच पता है ! लोगों के पास पैसे नहीं है, फिर शेयर बाजार कैसे चढ़ रहा है?

ट्विटर के माध्यम से समस्याओं का हो रहा समाधान

झारखंड पुलिस ट्विटर के माध्यम से ही जन समस्याओं का लगातार समाधान कर रही है. राज्य के डीजीपी एमवी राव ने कई समस्याओं का ट्विटर पर ही आदेश देकर समाधान कर दिया है. मालूम हो कि डीजीपी पद का प्रभार संभालते ही एमवी राव ने सभी जिलों के एसपी, सभी रेंज के डीआइजी, सीआइडी और एडीजी को आदेश दिया था.

वह ट्वीटर- फेसबुक व दूसरे सोशल साइट्स पर अपनी प्रोफाइल बनाएं. इस प्रोफाइल को सक्रिय करते हुए आमलोगों की समस्याओं को आनलाइन दर्ज कर कार्रवाई करें. डीजीपी के आदेश के बाद राज्य के सभी जिलों की पुलिस ट्विटर पर सक्रिय हो गयी है. ट्विटर के माध्यम से 24 घंटे न सिर्फ समस्याओं का समाधान हो रहा बल्कि बगैर थाने गए आम लोगों की समस्या का समाधान भी हो रहा है.

शिकायत पर तुरंत हो रही है कार्रवाई

आमलोगों के द्वारा झारखंड पुलिस के ट्विटर पर शिकायत करने के तुरंत बाद ही झारखंड पुलिस के द्वारा संबंधित जिले के एसपी को त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दिया जा रहा है. आमलोग अपनी समस्या अपने जिलों की पुलिस या झारखंड पुलिस के ट्विटर एकाउंट के साथ टैग कर रहे हैं. डीजीपी एमवी राव भी ट्विटर पर सक्रिय हैं. उनके द्वारा खुद भी ट्वीट के जरिए जिलों के एसपी को संबंधित दिशा निर्देश दिए जाते हैं.

इसे भी पढ़ें- हो गया न भूमिपूजन! अब मोदी सरकार को बताना चाहिये, मिडिल क्लास के लिये क्या सोचा है ?

आम लोगों की शिकायत पर कार्रवाई करने का आदेश

  • गढ़वा के रहने वाले आनंद कुमार ने 5 अगस्त को झारखंड पुलिस को ट्वीट करते हुए कहा कि मेरे खेत में लगे फसल चर जाने की शिकायत मैंने अपने थाना भवनाथपुर में 25/07/2020 को किया था. जांच में फसल चरने की पुष्टि भी हुई लेकिन आज तक मुझे न्याय नहीं मिला और ना ही थाना की ओर से दोषियों पर कार्रवाई हुई. झारखंड पुलिस मुख्यालय के द्वारा गढ़वा एसपी को इस मामले में उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.
  • बोकारो जिले के विवेक जी नाम के युवक ने झारखंड पुलिस को 5 अगस्त ट्वीट करते हुए कहा कि आवेदन दिए हुए 5 दिन हो चुका है अभी तक कोई करवाई नहीं हुई है. चास थाना के SI सुभाष कुमार पासवान और ASI जय प्रकाश पासवान द्वारा जनता को काफी शोषण किया जा रहा है. इस पर पुलिस मुख्यालय ने संज्ञान लेते हुए बोकारो एसपी को कहा की मामले में संज्ञान लेकर कार्रवाई करें.
  • सुनील तिवारी नाम के व्यक्ति ने झारखंड पुलिस को 5 अगस्त को ट्वीट किया था. इसमें कहा गया था कि दुमका में नाजायज ट्रकों की पासिंग का गोरखधंधा चल रहा है इसकी शिकायत की गयी. पुलिस मुख्यालय ने इसपर संज्ञान लेते हुए दुमका एसपी को कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें- सावधान मुंबई : ना निकलें घर से बाहर, कई इलाके जलमग्न, दोपहर में हाईटाइड का अलर्ट

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: