NEWS

पत्नी को परीक्षा दिलाने के लिए 1200 km स्कूटी चलायी थी, अब हवाई जहाज से करेंगे वापसी

Ranchi : कहा जाता है कि मजबूत इच्छाशक्ति हो तो इंसान बड़ी से बड़ी परेशानियों को भी पार कर जाता है. ऐसे लोग अपने कामों की वजह से दूसरों के लिए भी प्रेरक बन जाते हैं. ऐसी ही कहानी है झारखंड के गोड्डा निवासी धनंजय कुमार और उनकी पत्नी की.

गर्भवती पत्नी की परीक्षा थी ग्वालियर मेंं

दरअसल पिछले दिनों धनंजय कुमार की गर्भवती पत्नी सोनी हेंब्रम (22) की मध्य मध्यप्रदेश के ग्वालियर में डीए (डिप्लोमा इन एजुकेशन) की परीक्षा थी. कोरोना महामारी की वजह से परिवहन के साधन उपलब्ध नहीं थे और धनंजय और उनकी पत्नी को ग्वालियर पहुंचना काफी मुश्किल हो गया था.

advt

स्कूटी से ही 1200 किलोमीटर सफर करने की सोची

जब रेल, बस या कोई और साधन नहीं मिला तो फिर धनंजय ने पत्नी को स्कूटी पर बिठाकर ही ग्वालियर ले जाने की सोची. पर यह इतना आसान नहीं था क्योंकि गोड्डा से ग्वालियर तक की दूरी तकरीबन 1200 किलोमीटर की है.

पत्नी की गहने गिरवी रखकर सफर के लिए पैसे जुगाड़ किए

इसके अलावा आर्थिक परेशानी थी. उन्हें खराब सड़कों और मौसम का भी सामना करना था. धनंजय ने अपनी पत्नी के गहने गिरवी रखकर 10 हजार रुपये जुगाड़ किए और फिर स्कूटी पर पत्नी को बिठाकर ग्वालियर के लिए निकल पड़े. 30 अगस्त को धनंजय पत्नी के साथ ग्वालियर पहुंचे और उनकी पत्नी ने परीक्षा दी. ग्वालियर में वहां के स्थानीय प्रशासन ने धनंजय कुमार और उनकी पत्नी की मदद की.

मीडिया के जरिए यह मामला अडानी फाउंडेशन तक पहुंचा. फाउंडेशन ने वापसी की यात्रा के लिए धनंजय कुमार और उनकी पत्नी के लिए हवाई टिकट का इंतजाम किया है. अब धनंजय कुमार और उनकी पत्नी हवाई जहाज से वापस लौटेंगे.  

रांची से गोड्डा सड़क मार्ग से पहुंचेंगे

धनंजय (27) ने बताया कि अडानी फाउंडेशन की ओर से ग्वालियर से रांची की हवाई यात्रा का टिकट मिल गया है. यह टिकट 16 सितंबर का है. ग्वालियर से रांची के लिए सीधी उड़ान नहीं है, इसलिए हम दोनों हैदराबाद होकर रांची पहुंचेंगे. इसके बाद रांची से सड़क मार्ग से गोड्डा जाएंगे. इसका इंतजाम गोड्डा के डीसी ने किया है. धनंजय की स्कूटी को भी भेजने का इंतजाम अडानी फाउंडेशन करेगा. धनंजय ने कहा कि ग्वालियर प्रशासन ने रहने का इंतजाम परीक्षा केंद्र के पास कर दिया है. उन्होंने कहा कि गोड्डा में ही कुछ लोगों ने नौकरी की व्यवस्था करने की बात भी कही है.

 

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button