Jamshedpur

बागजाता माइंस के 12 मजदूरों ने जिला पार्षद से की रोजगार देने की मांग

Musabani : बागजाता माइंस की खदान के सिविल कार्य में लगे 12 मजदूर दो महीने से बेरोजगार हो गए हैं. इसके कारण उनकी आर्थिक स्थिति काफी दयनीय हो गई है. इस सम्बन्ध में बुधवार को मुसाबनी अंश 19 के जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू से मज़दूरों ने मुलाकात कर रोजगार दिलाने के लिए सहयोग मांगा. मजदूरों ने बताया कि दो महीने से ठेकेदार काम छोड़कर चला गया है. बागजाता माइंस के सभागार में यूसील प्रबंधक के साथ बैठक में सहमति बनी थी कि 21 दिनों के अंदर सॉर्ट टेंडर के माध्यम से काम पर रखा जाएगा. मजदूरों ने बताया कि लगभग दो महीने हो गए हैं. यूसील प्रबंधक ने रोजगार के लिए भरोसा दिया था मगर हर दिन प्रबंधक सिर्फ आश्वासन ही दे रहा है. इससे मजदूरों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है. मजदूरों को जल्द से जल्द रोजगार से नहीं जोड़ने पर मजदूर आंदोलन की रुख भी अपना सकते हैं. जिप सदस्य बुद्धेश्वर मुर्मू ने यूसील प्रबंधक से मोबाईल से बात करते हुए दो महीने से बेरोजगार हुए 12 मजदूरों को जल्द से जल्द रोजगार देने की मांग की. मजदूरों से धैर्य रखने की अपील करते हुए कहा कि आप सभी को रोजगार से जोड़ने के लिए यूसील प्रबंधक से हर सम्भव प्रयास करेगा.

ये थे मौजूद

कारू मुर्मू, काईलू हेंब्रम, सूगदा हेंब्रम, कालीदास हेंब्रम, नागेन्द्र मार्डी, कारू मार्डी, आजसू पार्टी के प्रखंड अध्यक्ष फागू सोरेन, दसमत टुडू, सुखलाल मुर्मू आदि मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- मुसाबनी में असंगठित कामगारों को दी गई ट्रेनिंग

 

 

Advt

Related Articles

Back to top button