न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची में ये 115 लोग करते हैं अवैध शराब का कारोबार, 11 लाइसेंसी दुकानदार वसूलते हैं ज्यादा दाम

लाइसेंसी दुकानों में कूलिंग के नाम पर वसूली जाती है ठंडी बियर की ज्यादा कीमत, हो जाती है लड़ाई

1,171

Ranchi : रांची नगर निगम क्षेत्र में 115 लोग अवैध देसी शराब के कारोबार में लिप्त हैं, वहीं 11 लाइसेंसी दुकानदार भी शराब के निर्धारित मूल्य से ज्यादा पैसे वसूल रहे हैं. इस बात का खुलासा विशेष शाखा की ओर से जारी रिपोर्ट में हुआ है.

रिपोर्ट के अनुसार, अवैध देसी शराब के निर्माण और बिक्री में लगे सभी लोग निगम क्षेत्र के विभिन्न थाना क्षेत्रों में फैले हुए हैं. इनमें कई ऐसे लोग हैं जो इस अवैध कारोबार से जुड़े कई कांड में पूर्व में चार्जशीटेड भी हो चुके हैं.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इनके अलावा सतरंजी बाजार में बुधवार और शनिवार को बाजार के दिन अवैध रूप से महुआ और देसी शराब की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है.

इसे भी पढ़ें : डिप्टी मेयर का एलान : हैदरबाद की तर्ज पर झिरी में कचरे पर बनेगा हॉर्टिकल्चर पार्क, जल्द होगा टेंडर

आदेश की अवहेलना कर रहे दुकानदार

रांची नगर निगम क्षेत्र में संचालित अंग्रेजी शराब की 11 लाइसेंसी दुकानों के संचालक दुकान में चिपकाये गये मूल्य से अधिक रुपये लेकर शराब और बियर की बिक्री कर रहे हैं.

इतना ही नहीं, पुराने प्रिंट वाली शराब की बोतल को भी एक अप्रैल 2019 से लागू नये मूल्य पर बेचा जा रहा है. उत्पाद विभाग के निर्देश की अवहेलना करते हुए अधिक मूल्य पर ठंडा बियर बेचे जाने की भी सूचना है.

किस थाना क्षेत्र में कौन लोग कर रहे हैं शराब का कारोबार

नामकुम थाना :- रामदास महतो, परमेश्वर बैठा, जितेंद्र बैठा, गोवर्धन महतो, दर्शन महतो, सदिर मुंडा, गणेश महतो, रमेश राय, अमित कुमार सिंह, सुरेंद्र सिंह, अमित कुमार सिंह ,सुरेंद्र साहू, नंदू बाग, अशोक साहू, लखन मिस्त्री, विजय बैठा, गोबरा मुंडा, सियाराम महतो, भरत महतो, शिवनाथ कुम्हार और लालदेव मुंडा.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

सुखदेव नगर थाना :- मोहन मेहता, सुरेश महतो, सहदेव मेहता, अभय सिंह, प्रमोद सिंह योगेंद्र साहू, फागू उरांव, नारायण मिर्धा, निरंजन मिर्धा, विजय मिर्धा, संतोष गाड़ी और राजेश मुंडा.

बरियातू थाना :- सोनू सिंह (कोकर की मदन गली में रहता है और वह गोल्डकिंग नाम की शराब बाहर से मंगाकर आस-पास के क्षेत्रों में आपूर्ति करता है), रंजीत उरांव, छोटे उरांव, राधवा देवी, शनिचरिया देवी, सावना उरांव, मानदेव लोहरा, भोला उरांव,बड़की देवी और संजय गाड़ी.

गोंदा और कांके थाना :- राजेंद्र नायक, मुन्नी देवी, राजू उरांव, मुन्ना उरांव, छोटन मिर्धा राधू मिंज, बाघ कच्छप, सुरेश मुंडा, डिसु उरांव, मुंडा निवास, भोसा उरांव, सोमा टोप्पो, मुन्ना गाड़ी, राजू उरांव, शिबू लिंडा, मनोज उरांव, मिठू कुजूर, गोलू मुंडा, जसिम उरांव, अंकित लोहरा, भतलू उरांव और नवीन मुंडा.

हिंदपीढ़ी और डेली मार्केट थाना :- बीरबल खलको, प्रदीप कच्छप और टिंकू मुंडा.

अरगोड़ा थाना :- राकेश सिंह (अरगोड़ा के पास रहता है और किंग गोल्ड शराब हरियाणा से मंगा कर आसपास के क्षेत्र में सप्लाई करता है).

चुटिया थाना :- गुड्डू (चुटिया का रहने वाला है और आसपास से शराब इकट्ठा कर बिहार भेजने का काम करता है).

लालपुर थाना :- गोविंद कमला देवी, बीना देवी, बबलू दामोदर बर्मन और देबू गोसांई.

ओरमांझी थाना :- नानू महतो, जयनाथ महतो, धनेश्वर महतो, रोहित साहू, निर्मल मुंडा और राजेश बेदिया.

डोरंडा थाना :- गंगा साहू, गोविंद साहू, राजू साहू, संजू साहू, अशोक साहू, मोहन साहू और हीलिया साहू.

कोतवाली थाना :- मंगल लोहरा, रामदयाल लोहरा, प्रदीप लोहरा, दीपक लोहरा, चढ़ा मुंडा, मोना वर्मा, दीपू मुंडा, सोहराई खलखो, गीता कच्छप, शशि भूषण सिंह, चंदन साव, किशुन उरांव.

धुर्वा और तुपुदाना थाना :- सुजीत टोप्पो, सौरभ कुमार साहू, मतियस बांडो, अवतार सिंह परमार, गोपाल घोष, गंगिया टोप्पो, राजू कच्छप, राजू, सुखराम तिग्गा, सुरेश सिंह,  महावीर सिंह.

इसे भी पढ़ें : पलामू : पारा शिक्षक का अपहरण, पूर्व ससुर और साला शक के घेरे में

कूलिंग के नाम पर ज्यादा कीमत वसूलने वाले 11 लाइसेंसी दुकानदार

विशेष शाखा की रिपोर्ट के अनुसार, निगम क्षेत्र में 11 दुकानदार कूलिंग चार्ज के नाम पर निर्धारित दर से अधिक कीमत पर शराब बेचते हैं. ये दुकानदार 1 अप्रैल 2019 से लागू नये मूल्य पर पुराने प्रिंट की शराब की बोतलें भी बेचते हैं.

इनमें संजीव कुमार (शॉप कोड 036), राजू कुमार नायक (शॉप कोड 012 और 011), महाराणा प्रताप सिंह (शॉप कोड 019), श्रवण कुमार (शॉप कोड 023), जंग बहादुर राय (शॉप कोड 040, चंदन कुमार सिंह शॉप कॉड 034), गोपाल प्रसाद (शॉप कोड 039), प्रमिला देवी (शॉप कोड 057), राजकुमार जायसवाल (शॉप कोड 055), निशांत कुमार सिंह (शॉप कोड 051), भरत प्रसाद (शॉप कोड 065) और कमल नागपाल (शॉप कोड 056) शामिल हैं.

ज्यादा दर पर बियर बेचने के चलते होती है मारपीट

मोरहाबादी स्थित शराब दुकानदार से आम लोग हमेशा शिकायत करते हैं कि वह ठंडी बियर के लिए ज्यादा पैसा की मांग करता है. इसके अलावा किशोरगंज बूटी मोड़, बरियातू, मेन रोड, रातू रोड की कई शराब दुकानों से बियर को ठंडा करने के नाम पर पैसे लिये जाते हैं. आम तौर पर शराब दुकान के बाहर ज्यादा दर पर बियर बेचे जाने के कारण ही झगड़ा होता है और मारपीट की नौबत आ जाती है.

इसे भी पढ़ें : क्लास 8 की छात्रा से छेड़खानी व मारपीट के आरोप में पूर्व सैनिक गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like