NEWS

धारावी में कोविड-19 के 11 नये मामले, झुग्गी-बस्ती इलाके में संक्रमितों की संख्या 71 और राज्य में 3000 के पार

विज्ञापन

Mumbai : मुंबई की धारावी में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के 11 नये मामले आने के साथ ही इस झुग्गी-बस्ती इलाके में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 71 हो गयी है.

बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने बताया कि 11 नये मामलों में से चार धारावी के मुकुंद नगर, दो-दो सोशल नगर और राजीव नगर तथा एक-एक मामला साई राज नगर, ट्रांजिट कैम्प और रामजी चॉल इलाकों से सामने आए.

उन्होंने बताया कि कुल 71 मामलों में से 18 मामले धारावी के मुकुंद नगर इलाके से, आठ सोशल नगर और सात मामले मुस्लिम नगर इलाकों से सामने आए. अभी तक धारावी के आठ मरीजों की मौत हो चुकी है.

इसे भी पढ़ेंः समय रहते जांच की स्पीड नहीं बढ़ायी गयी तो देश को कोरोना से बचाना मुश्किल होगा : एक्सपर्ट

धारावी एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी-बस्ती है. इस अत्यधिक भीड़भाड़ वाले इलाके में बनी झुग्गियों में करीब 15 लाख लोग रहते हैं.

महाराष्ट्र में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के कम से कम 165 नये मामले सामने आए. इसके साथ ही राज्य में संक्रमित लोगों की संख्या 3,081 पर पहुंच गयी है. एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि नये मामलों में 107 मामले मु्ंबई शहर से और 19 पुणे से सामने आए.

उन्होंने बताया कि इसके अलावा 11 नये मामले नागपुर, 13 ठाणे, चार-चार पिंपरी चिंचवड़ (पुणे) और मालेगांव (नासिक), दो-दो नवी मुंबई और वसई-विरार (पालघर) और एक-एक मामला अहमदनगर, चंद्रपुर तथा पनवेल (रायगड) से सामने आया.

इसे भी पढ़ेंः #CoronaVirus से जूझ रहे देशों को एक हजार अरब डॉलर की मदद देने की तैयारी में IMF

दो पत्रकारों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि राज्य के मंत्री जितेंद्र आव्हाड की बेटी के स्पेन से लौटने के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित होने की कथित तौर पर झूठी खबर चलाने वाले एक समाचार चैनल के संवाददाता और समाचार प्रस्तोता (एंकर) के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया गया है. हालांकि, देशमुख ने संबद्ध समाचार चैनल का नाम नहीं बताया.

देशमुख ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि इस प्रक्रिया में कोरोना वायरस से संक्रमित किसी भी मरीज के नाम का खुलासा नहीं करने की आचार संहिता का उल्लंघन किया गया. उन्होंने कहा कि चैनल ने यह जानबूझकर किया और यह गैर जिम्मेदारी भरा गंभीर मामला है.

देशमुख ने कहा कि ऐसे समय में जब कोरोना वायरस महामारी लेकर डर का माहौल है तो ‘फर्जी और दहशत फैलाने वाली’ खबरों का प्रसारण करना गलत है.

इसे भी पढ़ेंः इस लेख को पढ़िए, समझ में आ जायेगा भारत में कोरोना वायरस कहां से आया

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: