न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

100 साल से असम में रह रहे झारखंड के संथाल-उरांव आदिवासियों को असम में मिलेगा अनुसूचित जनजाति का दर्जा

eidbanner
27

News Wing Ranchi, 13 December: 100 साल से अधिक समय से असम में रह रहे झारखंड के संथाल और उरांव आदिवासियों को जल्द ही असम के अनुसूचित जनजाति का दर्जा प्राप्त होगा. मुख्यमंत्री रघुवर दास से गुआहाटी में बुधवार को असम सरकार के मुख्य सचिव, कार्मिक सचिव तथा टी ट्राइब के प्रधान सचिव ने मुलाकात की. उन्होंने सीएम को बताया कि असम सरकार ने झारखंड के मूल आदिवासी संथाल और उरांव समुदाय के लोग जो पिछले सौ वर्षों से अधिक समय से असम में बस गए हैं, उन्हें अनुसूचित जनजाति का दर्जा दिए जाने के लिए भारत सरकार को विधिवत प्रस्ताव भेजा है. मुख्यमंत्री ने इस पर प्रसन्नता प्रकट करते हुए अधिकारियों से कहा कि वे इसका फॉलोअप भारत सरकार से करें.

मुख्यमंत्री ने की थी पहल

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही रघुवर दास ने इस ओर तेजी से पहल किया और असम सरकार से इस दिशा में भारत सरकार को प्रस्ताव भेजने की पहल की थी. जनजातीय परामर्शदात्री समिति में भी यह प्रस्ताव आया और असम सरकार को इस आशय का प्रस्ताव भेजे जाने का निर्णय लिया गया. मुख्यमंत्री द्वारा लगातार प्रयास किए जाने के पहल का यह नतीजा है कि यह प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा गया है. मुख्यमंत्री के साथ हुई इस चर्चा में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव तथा मुख्यमंत्री के सचिव भी उपस्थित थे.

Related Posts

पलामू के हरिहरगंज थाने पर हमले का आरोपी ईनामी नक्सली गिरफ्तार

झारखंड-बिहार में दर्ज हैं कई आपराधिक मामले

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: