न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नीलाम्बर-पीताम्बर विश्वविद्यालय के 10 साल पूरे

49

Palamu: नीलाम्बर-पीताम्बर विश्वविद्यालय ने आज 10 साल का सफर पूरा कर लिया है. इस अवसर पर विश्वविद्यालय परिसर में स्थापना दिवस समारोह का आयोजन किया गया. समारोह में बतौर मुख्य अतिथि रांची विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो. एए खान शामिल हुए. विशिष्ट अतिथि के तौर पर पलामू प्रक्षेत्र के डीआईजी विपुल शुक्ला ने भी शिरकत की. कार्यक्रम की अध्यक्षता नीलाम्बर-पीताम्बर विश्वविद्यालय के कुलपति डा. एसएन सिंह ने की.

शिक्षक और विद्यार्थी दोनों अपनी जवाबदेही को समझें: प्रो. एए खान

समारोह को संबोधित करते हुए रांची विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति एए खान ने कहा कि अगर शिक्षा में गुणात्मक सुधार लाना है तो शिक्षक और विद्यार्थी दोनों को ही अपनी जवाबदेही समझनी होगी. उन्होंने कहा कि शिक्षक केवल एकेडमिक शिक्षा देकर अपनी जवाबदेही से मुक्त नहीं हो सकते. उनका काम व्यक्तित्व विकास करना भी है. पूर्व कुलपति ने कहा कि मेधावी छात्रों के लिए आर्थिक तंगहाली बाधा नहीं बन सकती.

कुलपति ने गिनायी दस साल की उपलब्धियां

Related Posts

पलामू : बकोरिया में बच्ची की पटककर हत्या के मामले में CRPF व मनिका पुलिस पर FIR

फर्जी मुठभेड़ के लिए चर्चित बकोरिया अब बच्ची की हत्या को लेकर चर्चा में

SMILE

इस मौके पर विश्वविद्यालय के कुलपति डा. सिंह ने दस साल की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा कि इस दौरान कई सुधार किए गये हैं, लेकिन अभी कयी कमियां हैं, जिन्हें दूर करना जरूरी है. उन्होंने कहा कि शिक्षकों की कमी उच्च शिक्षा क्षेत्र में बड़ी बाधा है. नये सत्र में कई नये कॉलेज बनकर तैयार हो जायेंगे. ऐसे में शिक्षकों की कमी से निपटना एक चुनौती है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि कुलाधिपति के निर्देश पर विश्वविद्यालय के टॉपर छात्र को ही अस्थायी तौर पर अध्यापन कार्य में लगाने की पहल की जा रही है.

रंगारंग सांस्कृति कार्यक्रम का आयोजन 

इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये गये. कार्यक्रम में अन्य लोगों के अलावा कुल सचिव राकेश कुमार, प्रो. वीसी पवन कुमार पोद्दार, डीएसडब्लू एमके तिवारी, परीक्षा नियंत्रक गंगा सिंह, वित्तीय सलाहकार कैलाश राम, वित्त पदाधिकारी डा. नकुल प्रसाद, जिला पार्षद विनोद सिंह सहित विश्वविद्यालय के कई पदाधिकारी मौजूद थे. मंच संचालन निशा गुप्ता और मनोरमा सिंह ने किया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: