न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

15 नवंबर को 10 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपा जायेगा : सीएम

मुख्यमंत्री ने कहा- 2019 तक 24 घंटे बिजली देने का है लक्ष्य, राज्य के तीन जिलों के प्रत्येक घर तक पहुंचा दी गयी है बिजली

66

Ranchi : समृद्ध राज्य की गरीबी को हमें दूर करना है. गांव चौपाल के माध्यम से आपकी सोच को सकारात्मक दिशा में परिवर्तित करना चाहता हूं. सोच बदलने से ही झारखंड बदलेगा. युवा अपने गांव को दिशा देने का बीड़ा उठायें. ऐसा कार्य करें, ताकि वीर शहीद बुधु भगत की तरह चिर काल तक लोग आपको याद रख सकें. अत्याचार के खिलाफ और देश की स्वाधीनता के लिए आवाज बुलंद करनेवाले वीर शहीदों को आजादी के बाद किसी ने याद नहीं किया. लेकिन, वर्तमान सरकार ने वीर शहीदों के सम्मान में उनके गांव को विकसित गांव बनाने का संकल्प लिया है. उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने चान्हो के सिलागाई में रविवार को आयोजित ग्राम चौपाल को संबोधित करते हुए कहीं. उन्होंने कहा कि राज्य में 15 नवंबर को 10 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपा जायेगा, ताकि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दी जा सके. स्कूल जा रहे बच्चों को दूध उपलब्ध हो, इसके भी प्रयास हो रहे हैं, जिससे वे कुपोषणमुक्त हो सकें.

इसे भी पढ़ें- गिरी हुई पार्टी है भाजपा, भगवान राम उनके लिए सत्ता पाने का रास्ता :  डॉ अजय कुमार

पेयजलापूर्ति योजना का किया उद्घाटन

मुख्यमंत्री ने रविवार को आदर्श ग्राम के तहत पेयजल आपूर्ति योजना का उद्घाटन किया. उन्होंने कहा कि  यह प्रथम चरण की योजना है. ऐसे चार अन्य योजनाएं जल्द शुरू होंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि 49 करोड़ 30 लाख रुपये की लागत से वीर बुधु भगत के गांव को विकसित कर आदर्श ग्राम बनाया जायेगा, जहां गांव का एक-एक ग्रामीण मूलभूत सुविधाओं से आच्छादित होगा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी की पहल पर रांची स्थित पुरानी जेल का जीर्णोद्धार किया जा रहा है, जहां धरती आबा बिरसा मुंडा की प्रतिमा स्थापित की जायेगी.

15 नवंबर को 10 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपा जायेगा : सीएम

इसे भी पढ़ें- रांची में गैंगवार में कुख्यात अपराधी सोनू इमरोज की गोली मारकर की हत्या

नारी को सशक्त करना है

मुख्यमंत्री ने कहा कि नारी को हमें सशक्त करना है. आनेवाले दिनों में स्कूली बच्चों के लिए महिलाएं यूनिफॉर्म का निर्माण करेंगी. हर वर्ष 80 लाख यूनिफॉर्म सरकार बच्चों को देती है. आदिवासी विकास समिति में महिलाओं को प्राथमिकता देते हुए गांव के विकास की जिम्मेदारी सौंपी जा रही है. अब पांच लाख रुपये तक की योजनाओं को वे सर्वसम्मति से अपने गांव में लागू कर सकती हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव के मुखिया 14वें वित्त आयोग का पैसा गांव को मूलभूत सुविधा प्रदान करने में करें. इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने सिलागाई स्थित वीर बुधु भगत की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया. इस अवसर पर मांडर की विधायक गंगोत्री कुजूर, रांची के उपायुक्त, वरीय आरक्षी अधीक्षक व अन्य उपस्थित थे.

15 नवंबर को 10 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपा जायेगा : सीएम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: