न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

 सामान्य वर्ग के गरीब छात्रों को 10 प्रतिशत आरक्षण, शिक्षण संस्थानों में बढ़ेंगी दो लाख सीटें, मोदी कैबिनेट की मुहर

पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्रीय शैक्षिक संस्थानों में ईडब्ल्यूएस छात्रों के लिए प्रवेश में आरक्षण के प्रावधानों को मंजूरी दे दी.

224

NewDelhi : केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सोमवार को आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए 10 प्रतिशत लागू करने के लिए देश भर के 158 केंद्रीय शैक्षिक संस्थानों (सीईआई) में 2,00,000 अतिरिक्त सीटें जोड़ने के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी.  बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्रीय शैक्षिक संस्थानों में ईडब्ल्यूएस छात्रों के लिए प्रवेश में आरक्षण के प्रावधानों को मंजूरी दे दी.  सूत्रों के अनुसार कैबिनेट में प्रस्ताव आगे बढ़ाने से पहले मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने चुनाव आयोग की अनुमति मांगी थी, क्योंकि लोकसभा चुनाव से पहले आदर्श आचार संहिता लागू हो गयी है.  सूत्रों ने कहा, मंत्रिमंडल की मंजूरी के साथ, कुल 2,14,766 अतिरिक्त सीटें  देश के विवि में जोड़ी जायेंगी.

इसे भी पढ़ेंःराहुल गांधी को SC का नोटिस, ‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर 22 अप्रैल तक मांगा जवाब

4315.15 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी

Related Posts

अमित शाह ने चुनावी रैली में कहा, पंडित नेहरू ने संघर्ष विराम नहीं कराया होता, तो #POK का अस्तित्व नहीं होता

कश्मीर में कोई अशांति नहीं है और आने वाले दिनों में आतंकवाद समाप्त हो जायेगा.

जानकारी के अनुसार 2019-20 शैक्षणिक सत्र के दौरान 1,19,983 अतिरिक्त सीटें जुड़ेगीं, जबकि 95,783 सीटें 2020-21 के शैक्षणिक सत्र में जुड़ेगीं.  बता दे कि राज्यसभा ने 9 जनवरी को संविधान संशोधन की अनुशंसा के साथ नौकरियों और शिक्षा में सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने को मंजूरी प्रदान की थी.  यह आरक्षण अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों तथा अन्य पिछड़े वर्गों (ओबीसी) के मौजूदा 50 फीसदी आरक्षण के अतिरिक्‍़त होगा.  EWS के छात्रों के लिए 158 CEI में प्रवेश में आरक्षण लागू करने के लिए 4315.15 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी  मिली है. 2019-20 के अंतरिम बजट में भी CEI में 25 प्रतिशत सीटों की वृद्धि के लिए बजट प्रस्तावित किया गया है.

पढ़ेंःइलेक्टोरल बॉन्ड के जरिये 10 लाख और एक करोड़ रुपये मूल्य का चंदा राजनीतिक दलों को मिला : आरटीआई से…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: