Uncategorized

समरसता का माहौल बिगाड़ने की साजिश के खिलाफ वामदलों का नागरिक सद्भावना मार्च

Ranchi :  रांची शहर एवं आसपास के इलाके दलादली व नगड़ी समेत अन्य इलाकों में सामाजिक समरसता के माहौल को बिगाड़ने की सुनियोजित साजिश के खिलाफ मंगलवार को विभिन्न वाम दलों तथा अन्य जन संगठनों के प्रतिनिधियों द्वारा हम एक हैं नागरिक सद्भावना मार्च निकाला गया. नागरिक मार्च में वाम दलों के द्वारा सरकार संरक्षित सांप्रदायिक उन्माद पर रोक लगाओ, सांप्रदायिक उन्माद के खिलाफ हम एक हैं के नारे लगाये गये. मार्च अलबर्ट एक्का चौक पर जाकर प्रतिवाद श्रृंखला में बदल गया.

इसे  भी  पढ़ें :  मैट्रिक का रिजल्ट जारी , 59.48 फीसदी छात्र रहे सफल , हजारीबाग 74.75 फीसदी रिजल्ट के साथ टॉप पर

advt

  वामदलों ने संजय सेठ को गिरफ्तार करने की मांग की

  वामदलों ने सरकार व प्रशासन से साम्प्रदायिक उन्मादियों पर अविलंब लगाम लगाने व गिरफ्तार कर सजा देने की मांग की. रांची में भाजपा नेता व राज्य खादी ग्रामोद्योग संघ के अध्यक्ष संजय सेठ पर आरोप लगाया कि उन्‍़होंने उत्पात करनेवाले भारतीय युवा मोर्चा के हमलावरों के जत्थे को रवाना किया. उन पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग की  गयी. वामदलों समेत सभी विपक्षी दलों द्वारा मांग की गयी कि ईद के पावन पर्व पर किसी भी कीमत पर सामाजिक समरसता को बहाल किया जाये. साथ ही उन्माद फैलाने वाले सभी दोषियों को सजा देने की मांग की गयी. मांग की गयी कि  इस तरह का कोई भी कांड होने पर इलाके के थाना प्रभारियों को जिम्मेवार ठहराया जाये.

इसे भी पढ़ें : आजसू प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से की मुलाकात, कहा – रोका जाये दारोगा बहाली और जेपीएससी में स्थानीय की बहाली

 मार्च में शामिल हुए

 मार्च का नेतृत्व भाकपा माले राज्य सचिव कामरेड जनार्दन व शुभेंदू सेन, सीपीएम राज्य सचिव का. गोपिकांत बक्शी व प्रकाश विप्लव, सीपीआई के का. अजय,  वरिष्ठ पत्रकार श्रीनिवास,  झारखंड जन संस्कृति मंच के अनिल अंशुमन,  एआईपीएफ की आलोका, एक्टू के का. भुवनेश्वर केवट व का. सुखदेव प्रसाद, सीपीएम किसान नेता का प्रफुल्ल लिंडा समेत कई जन संगठनों के प्रतिनिधियों ने किया. इसके अलावा मार्च में मासस के का. सुशांतो व  माले के एनामुल हक, इप्टा के उमेश नज़ीर व फरजाना , एडवा की वीणा लिंडा तथा कई अन्य नेताओं-कार्यकर्ताओं ने सक्रिय भागीदारी निभायी. मार्च में विशेष रूप स दलादिली से आये ग्रामीणों ने भी भाग लिया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: