Uncategorized

सऊदी अरब में चार माह में 48 व पिछले साल 150 लोगों को मौत की सजा मिली

Jeddah :  सऊदी अरब में पिछले चार महीने में 48 लोगों को मौत की सजा दी गयी. पिछले साल करीब 150 लोगों को यहां मौत की सजा दी गयी थी.  इसमें दोषियों के सिर कलम करने के आदेश दिये गये. इस सबंध में अमेरिका की मानवाधिकार संस्था ह्यूमन राइट्स वॉच (एचआरडब्ल्यू) ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सऊदी अरब को अपनी न्याय प्रणाली में सुधार लाने चाहिए. संस्था ने मौजूदा न्याय प्रणाली को अनुचित करार दिया है. संस्था के अनुसार सऊदी अरब में पिछले चार महीने के दौरान 48 लोगों को मौत की सजा दी गयी. इनमें से अधिकतर मामले के दोषी ड्रग्स अपराधों से जुड़े थे. मौत की सजा देने के मामले में सऊदी अरब दुनिया में काफी आगे है. यहां आतंकवाद, बलात्कार, हत्या, लूटपाट, ड्रग्स की तस्करी जैसे मामलों में अपराधी साबित होने पर मौत की सजा दिया जाना आम बात है.  स्लामिक कानून को मानने वाले सऊदी अरब की न्याय प्रणाली के खिलाफ मानवाधिकार समूह हमेशा से आवाज उठाते आये हैं. लेकिन सरकार का दावा है कि मौत की सजा अपराधों को लेकर डर पैदा करती है. और, लोग ऐसा कुछ भी करने से हिचकते हैं.

इसे भी पढ़ें : ट्रंप प्रशासन के एच-4 वीजा पर फैसले से  60,000 भारतीय हो जायेंगे बेरोजगार

advt

सजा पाने वालों में हर तीसरा व्यक्ति ड्रग्स मामलों में शामिल  

एचआरडब्ल्यू में मध्यपूर्व क्षेत्र की निदेशक सारा लेह व्हिटसन कहती हैं. सऊदी अरब में इतने लोगों को मौत की सजा दे दी जाती है,  तब भी जब वे किसी जघन्य अपराध में शामिल नहीं होते. एचआरडब्ल्यू के मुताबिक सऊदी अरब में साल 2014 के बाद से अब तक लगभग 600 लोगों को मौत की सजा दी गयी है. सजा पाने वालों में हर तीसरा व्यक्ति ड्रग्स मामलों में शामिल था. पिछले साल करीब 150 लोगों को यहां मौत की सजा दी गयी. इसमें दोषियों के सिर कलम करने के आदेश दिये गये. लेकिन अब सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से कुछ उम्मीद नजर आती है. टाइम मैग्जीन को दिये अपने इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि देश में मौत की सजा जैसे प्रावधानों को बदलने पर विचार किया जायेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: