Uncategorized

संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान ने अलापा कश्‍मीर राग, भारत ने कहा, जम्मू-कश्मीर भारत का अंग 

NewDelhi   :   पाकिस्तान  कश्‍मीर राग  नहीं  छोड़ रहा है.   बता दें  कि  पाक राजदूत मलीहा लोदी ने सोमवार को   संयुक्त राष्ट्र महासभा  (यूएनजीए)  की चर्चा में कश्मीर का  मुद़दा उठाया.  लोदी  ने जनसंहार, युद्ध अपराध, जातीय संहार और मानवता के खिलाफ अपराधों को रोकने तथा उससे संरक्षण की जिम्मेदारी विषय पर कहा कि कश्मीर हत्या और नर-संहार जैसे गंभीर अपराधों से पीड़ित जगहों में शामिल है .  लेकिन  बाद में  उत्तर देने के अधिकार के तहत भारत ने संयुक्त राष्ट्र की 193 सदस्यीय संस्था में पाकिस्तान द्वारा कश्मीर का इस तरह हवाला दिये जाने पर कड़ा विरोध दर्ज कराया.  भारत के उत्तर देने के अधिकारी संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन में प्रथम सचिव संदीप कुमार बाय्यपू ने जवाब  दिया कि  ऐसे समय  में जब सभी के लिए महत्व रखने वाले मुद्दे पर पिछले एक दशक में पहली बार गंभीर चर्चा हो रही है, तो ऐसे में हमने देखा कि एक प्रतिनिधि ने फिर से भारतीय राज्य जम्मू-कश्मीर का गलत हवाला देने के लिए इस मंच का दुरूपयोग किया है .  संदीप कुमार ने इस क्रम में कहा कि अतीत में भी संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दा उठाने के पाकिस्तान के कुटिल प्रयास विफल रहे हैं और उसे कोई समर्थन नहीं मिला है.  कहा कि मैं इस बात को रेकॉर्ड में शामिल कराना चाहूंगा कि जम्मू-कश्मीर राज्य भारत का अभिन्न और अखंड अंग है.   

Sanjeevani

इसे  भी  पढ़ें  :  इमरजेंसी को याद कर बोले पीएम, लोकतंत्र को जेल में बंद करने वाले डरा रहे हैं कि मोदी संविधान को खत्म कर देगा   

MDLM

विदेश नीति के मोर्चे पर यह सरकार की आपराधिक विफलता  :  कांग्रेस 

पाकिस्तान की कोई खोखली दलील इस सच को बदल नहीं सकती. बता दें कि रविवार को कांग्रेस ने संयुक्त राष्ट्र की  उस  रिपोर्ट पर केन्द्र सरकार को आड़े हाथों लिया था, जिसमें कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन का आरोप लगाया गया है.  कांग्रेस ने कहा कि कैसे सरकार ने वैश्विक संस्था को ऐसी रिपोर्ट देने की इजाजत दी.  कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने दिल्ली में आयेाजित संवाददाता सम्मेलन में  विदेश नीति के मोर्चे पर इसे सरकार की आपराधिक विफलता करार दिया.  कहा कि हम इस बात को लेकर क्षुब्ध और चिंतित हैं कि कैसे मानवाधिकार पर यूएन की रिपोर्ट में इसे इस तरह से देखा गया. तंज किया कि प्रधानमंत्री मोदी प्रवासी भारतीयों को संबोधित करने दुनियाभर में जाते हैं। वे बड़ी-बड़ी बातें करते हैं और वापस आते हैं और उसके बावजूद  ऐसा हुआ.  

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button