Uncategorized

शिबू सोरेन ने की राष्ट्रपति से मुलाकात : कहा, एससीएसटी एक्ट में ना हो संशोधन, झारखंड भूमि अधिग्रहण बिल वापस करने का  किया आग्रह

New Delhi : झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष शिबू सोरेन ने शुक्रवार को देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की. मुलाकात के दौरान उन्होंने 24 विधायक, पूर्व विधायक और पूर्व सांसदों के हस्ताक्षर वाला ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन में उन्होंने मांग की कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के मूल स्वरूप से छेड़छाड़ ना किया जाए. उन्होंने बताया कि कैसे दो अप्रैल को पूरे देश में इस मामले को लेकर हंगामा हुआ. एमपी में सात लोगों की जान गयी. रांची में छात्रों को दौड़ा-दौड़ा कर पुलिस ने पीटा. उन्होंने आग्रह किया कोर्ट के फैसले में वो हस्तक्षेप करें और एसटीएससी एक्ट 1989 के मूल स्वरूप को अक्षुण्ण रखा जाए.

इसे भी देखें- सीएम का दावा ‘तेजी से हो रहा विकास’, नीति आयोग की रैंकिंग में 17 जिले पिछड़े

झारखंड भूमि अधिग्रहण बिल हो वापस

ram janam hospital
Catalyst IAS

शिबू सोरेन ने ज्ञापन के जरिए राष्ट्रपति के संज्ञान में यह बात डाली कि विपक्ष की आपत्ति के बावजूद झारखंड में सरकार भूमि अधिग्रहण को थोपना चाहती है. उन्होंने कहा कि इससे पहले झारखंड सरकार ने एसपीटी और सीएनटी एक्ट से छेड़छाड़ करने की कोशिश की थी. लेकिन झारखंड की जनता की भावनाओं को देखते हुए राज्यपाल ने उसे वापस सरकार को भेज दिया. कहा जिस तरह से एसपीटी और सीएनटी एक्ट को राज्यपाल ने वापस किया, उसी तरह भूमि अधिग्रहण बिल को भी वापस कर दिया जाए.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इसे भी देखें- साहेबगंज : 06 अप्रैल 2017 को प्रधानमंत्री ने की थी कई घोषणाएं, बंदरगाह निर्माण छोड़ किसी भी  योजना पर काम शुरू नहीं

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

One Comment

  1. 447254 224148Hey! Do you know if they make any plugins to protect against hackers? Im kinda paranoid about losing everything Ive worked hard on. Any recommendations? 987726

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button