Uncategorized

विपक्षी नेताओं ने राष्ट्रपति चुनाव पर चर्चा की

नई दिल्ली: विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर बुधवार को विचार-विमर्श किया और अपनी रणनीति पर फैसला करने से पहले केंद्र सरकार द्वारा उम्मीदवार की घोषणा तक इंतजार करने का फैसला किया। नौ पार्टियों के नेताओं ने संसद भवन में राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद के कमरे में मुलाकात की। आजाद ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि बैठक में किसी भी नाम पर विचार-विमर्श नहीं किया गया।

उन्होंने कहा, “यह प्रारंभिक बैठक थी। किसी भी नाम पर चर्चा नहीं हुई। सभी पार्टियां पूरी तरह एकजुट हैं।”

advt

आजाद ने कहा कि यह बात सामने आई है कि राष्ट्रपति के उम्मीदवार पर विपक्षी पार्टियों के साथ सर्वसम्मति बनाने को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा गठित तीन सदस्यीय कमेटी विपक्षी नेताओं के साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेगी।

आजाद ने कहा कि विपक्षी पार्टियों के बीच बैठक में भविष्य का विचार-विमर्श, सत्ता पक्ष द्वारा चुने गए उम्मीदवार तथा वह किस पार्टी से है, इसपर निर्भर करेगा।

उन्होंने कहा, “तभी हम ठोस विचार-विमर्श कर सकते हैं।”

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने संवाददाताओं से कहा कि वह भाजपा को ‘खत्म’ कर देंगे।

बैठक में मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी, जनता दल (युनाइटेड) के नेता शरद यादव, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रफुल्ल पटेल, समाजवादी पार्टी (सपा) के रामगोपाल यादव, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सतीश चंद्र मिश्रा, कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे, तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओब्रायन तथा द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) के आर.एस.भारती शामिल हुए।

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: