Uncategorized

रोहिंग्या मुसलमानों पर हो रहे अत्यचार के खिलाफ रांची में विरोध, अंतरराष्ट्रीय संगठनों पर उठाये सवाल

News Wing
Ranchi, 15 September : म्यांमार-बर्मा में मुसलामानों के कत्लेआम के विरोध में आज रांची के कर्बला चौक स्थित आजाद   स्कूल मैदान में मुस्लिम संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया.  सभा में हज़ारों की  भीड़ उमड़ी. भारत सरकार से मामले में हस्तक्षेप करने की  अपील की गई.

 

 

Catalyst IAS
ram janam hospital

 

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

म्यामांर सरकार के संरक्षण में रोहिंग्या मुसलमानों साहित दूसरे धर्म के लोगों के जनसंहार के खिलाफ आज ऑल मुस्लिम यूथ एसोसिएशन (आमया) रांची ने  एजी मोड़ डोरन्डा, कांके, नगड़ी, ईटकी और बेड़ो में विरोध मार्च निकाला. हाथों में तख्ती लिये युवक म्यांमार के स्टेट काउंसलर आंग सांग सू की और राष्ट्रपति के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी.

इस क्रम में आमया के अध्यक्ष एस अली ने कहा कि म्यांमार में पिछले कई वर्षों से अल्पसंख्यक समुदायों को साजिश के तहत मारा जा रहा. अबतक बारह हजार लोग मारे जा चुके हैं. चार लाख से अधिक लोग म्यांमार छोड़ कर भारत सहित अन्य पड़ोसी देशों में शरणार्थी का जीवन गुजार रहे हैं.

 

अंतरराष्ट्रीय संगठन अब तक चुप क्यों
संयुक्त राष्ट्र संघ, इसलामी सहयोग संगठन, अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन द्वारा अबतक बर्मा सरकार की ऐसी क्रूरतापूर्ण रवैये पर कोई कारवाई नहीं की गयी. मानव रक्षा के नाम पर कई देशों को बरबाद करने वाले अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, रूस जैसे देश भी चुप हैं. उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री से भारतीय परम्पराओं के अनुसार म्यांमार में हो रहे कत्लेआम को रोकवाने की मांग की.

इस मौके पर मुख्य रूप से तनवीर आलम, मो फुरकान, इमरान अंसारी, मो अफताब, जियाउद्दीन अंसारी, लतीफ आलम, जुहैब शाद, मो जावेद,  शाकिल, एनुल अंसारी आदि मौजूद थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button