Uncategorized

रुठे सहयोगियों को मनाने में जुटी भाजपा, शिवसेना प्रमुख से कल शाह करेंगे मुलाकात

Mumbai: 2019 से पहले विपक्ष की एकता के बीच बीजेपी भी अपनी रुठे सहयोगियों को मनाने में जुटी है. इसी कड़ी में भाजपा से नाराज चल रहे शिवसेना को मनाने की कवायद शुरु हो गई है. गौरतलब है कि भाजपा से नाराज चल रहे गठबंधन सहयोगी शिवसेना द्वारा पालघर संसदीय उपचुनाव में अलग प्रत्याशी उतारे जाने की पृष्ठभूमि में शाह और ठाकरे की यह भेंट ज्यादा महत्वपूर्ण हो गयी है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंः 2019 की तैयारी में सपा, यूपी में सीटों के बंटवारे पर सही समय पर होगा विचार: अखिलेश

MDLM

नारागजगी दूर करने की होगी कोशिश

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह बुधवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से उनके आवास पर मुलाकात करेंगे. शिवसेना सांसद संजय राउत ने पीटीआई को बताया कि  अमित शाह ने उद्धव ठाकरे से मिलने के लिये वक्त मांगा है. इसके बाद उन्हें मुलाकात के लिये बुधवार शाम का वक्त दिया गया है.  उन्होंने चार साल के अंतराल के बाद ठाकरे से मुलाकात की आवश्यकता पर सवाल उठाया. बीजेपी का यह कदम अपनी नाराज सहयोगी तक पहुंचने का एक प्रयास है, जो खुलकर उसके वरिष्ठ नेताओं की आलोचना करती है.

शिवसेना नहीं करेंगी गठबंधन- राउत

शिवसेना नेता संजय राउत ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि  पालघर उपचुनाव को हमने अकेले लड़ा और हमने दिखाया कि हम अकेले भी चुनाव लड़ सकते हैं. हालांकि हम हार गये लेकिन यह संदेश सबको गया. हमें पालघर उपचुनाव में लाखों वोट मिले , जहां हमने कभी अकेले कोई चुनाव नहीं लड़ा था. राउत ने कहा कि राजग के सहयोगी एक-एक कर भाजपा को छोड़ रहे हैं. भाजपा के खिलाफ लोगों में नाराजगी है इसलिए अब पार्टी ने सुलह के उपाय करने शुरू कर दिये हैं. यह पूछे जाने पर कि क्या आगामी सभी चुनावों में शिवसेना यही रुख जारी रखेगी, इस पर राउत ने कहा कि पार्टी प्रमुख ठाकरे ने गहन विचार करने के बाद यह तय किया कि हम कोई गठबंधन नहीं करेंगे. राज्यसभा सदस्य राउत ने कहा कि यह फैसला लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए किया गया. मैं नहीं समझता कि इस रुख में कोई बदलाव होगा.  

समर्थन के लिए संपर्कअभियान के लिए मुलाकात- मुनगंतीवार

हालांकि भाजपा के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंतीवार ने कहा कि ठाकरे के साथ शाह की यह मुलाकात पार्टी की देशव्यापी समर्थन के लिए संपर्कअभियान के तहत हो रही है. इसका महाराष्ट्र में पालघर एवं भंडारा-गोंदिया लोकसभा सीटों पर हाल में हुए उपचुनाव से कोई लेना देना नहीं है. मुनगंतीवार ने कहा कि शाह भाजपा की देशव्यापी संपर्क कार्यक्रम के तहत ठाकरे एवं अन्य लोगों से मिलने वाले हैं. उन्होंने कहा कि  भाजपा की समर्थन के लिए संपर्कअभियान के तहत अमित शाह जी देशभर में यात्रा कर रहे हैं. उद्धव जी से उनकी यह मुलाकता इसी कार्यक्रम का हिस्सा है. शिवसेना अध्यक्ष के साथ-साथ वह समाज के विभिन्न वर्गों से करीब 15-20 लोगों से मुलाकात करेंगे.

इसे भी पढ़ेंःगोवा में पर्रिकर की अनुपस्थिति को मुद्दा बनाने पर कांग्रेस की आलोचना

बीजेपी नेता मुनगंतीवार ने साफ किया कि  इस मुलाकात का हालिया उपचुनावों से कोई लेना-देना नहीं है. यह 2019 के चुनावों को लेकर संपर्क का एक प्रयास है.  मोदी सरकार के चार साल का कार्यकाल पूरा करने पर भाजपा ने 2019 लोकसभा चुनावों की तैयारियों के तहत समर्थन के लिए संपर्ककार्यक्रम की शुरुआत की है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button