Uncategorized

रिम्स में कार्यबहिष्कार के बाद मरीज परेशान, जूनियर नर्सेज एसोसिएशन ने गेट में की तालाबंदी

Ranchi : गरीबों के अस्पताल कहे जाने वाले रिम्स में मरीजों का हाल बेहाल है. अहले सुबह मरीज के परिजन और नर्सों के बीच मारपीट के बाद मामला तूल पकड़ता दिख रहा है. एक ओर जहां जूनियर नर्सेज एसोसिएशन ने रिम्स के एमरजेंसी और ओपीडी सेवा को बाधित कर दिया है. वहीं दूसरी ओर रिम्स अस्पताल के एमरजेंसी गेट में तालाबंदी भी कर दी है. इस वजह से मरीज अस्पताल में बंधक बन गए हैं. जूनियर नर्सेज एसोसिएशन के बैनर तले नर्सों ने मांग की है कि जब तक स्वास्थ्य मंत्री रिम्स आकर नर्सों की सुरक्षा व्यवस्था के लिए कुछ नहीं करते हैं तब तक काम ठप रहेगा.

ओपीडी बाधित, भटकते दिखे मरीज

धुर्वा सेक्टर-2 से आई महिला लक्ष्मी देवी ने कहा सुबह स्किन डिपार्टमेंट में डॉक्टर को दिखाने के लिए आए थे लेकिन यहां पर डॉक्टर नहीं है. उन्होंने कहा कि अब क्या करें कुछ समझ में नही आ रहा है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

एक इंसान की गलती की सजा सब को क्यों

मांडर से आए मरीज के परिजन ने कहा कि मरीज की स्थिति काफी भयावह हो गई है लेकिन अस्पताल प्रबंधन का इस ओर ध्यान नहीं है नर्सों ने जोर जबरदस्ती करते हुए गेट में तालाबंदी कर दी है जिस वजह से परेशानी झेलनी पड़ रही है. उन्होंने बताया कि एक इंसान की गलती की सजा आखिर सभी मरीजों को क्यों दिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- रिम्स में हड़ताल, नर्स और मरीज के परिजनों के बीच मारपीट के बाद मामले ने पकड़ा तूल

तालाबंदी के बाद उग्र हुए मरीज

वहीं रिम्स इमरजेंसी काउंटर के समीप के गेट में तालाबंदी के बाद मरीज उग्र हो गए. उन्होंने प्रबंधन को कोसते हुए इसे मनमाना रवैया बताया. मरीजों ने कहा कि जितनी भी अस्पताल की नर्स है वह मनमानी कर रही है, ऐसे में मरीजों को रिम्स से बाहर जाना पड़ रहा है.

छावनी में तब्दील हुआ रिम्स

इस घटना के बाद पूरे रिम्स परिसर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. दर्जनों की संख्या में बरियातू थाना की पुलिस के साथ सदर डीएसपी विकास चंद्र श्रीवास्तव खुद मौके पर पहुंचे हैं और हालात की जानकारी ले रहे हैं. रिम्स परिसर का माहौल पूरी तरह से अफरा-तफरी में तब्दील हो चुका है. मरीजों के परिजन परिसर में भटकते हुए दिख रहे हैं लेकिन इनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है.

छावनी में तब्दील हुआ रिम्स

मरीज को मारने पर उतरे जूनियर डॉक्टर

इस घटना के बाद जूनियर डॉक्टर काफी उग्र हो गए हैं और मरीज को भी मारने पर उतारू हो चुके हैं. रिम्स के मुख्य द्वार पर जूनियर डॉक्टर और मरीज के बीच मारपीट भी देखने को मिली. लेकिन मौके पर सदर डीएसपी विकास चंद्र श्रीवास्तव ने मोर्चा संभालते हुए उक्त व्यक्ति को अपने कब्जे में लिया और बरियातू थाना ले कर गए हैं.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

2 Comments

  1. 30531 318133Naturally I like your web-site, however you need to have to check the spelling on several of your posts. Numerous of them are rife with spelling problems and I uncover it quite silly to inform you. On the other hand I will undoubtedly come once more again! 804867

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button